PM Security Breach Case: प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, कल होगी सुनवाई; चन्नी सरकार ने गठित की जांच टीम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक का मुद्दा तूल का पकड़ता दिखाई दे रहा है. यह मामला अब सुप्रीम कोर्ट की दहलीज पर पहुंच चुका है, शुक्रवार को इस केस की सुनवाई होगी.

Updated: January 6, 2022 12:57 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Nitesh Srivastava

PM Modi, PM Narendra Modi, PM Modi's convoy, Punjab, Ferozepur, PM's convoy, Security breach, what is The Safety Protocol OF PM Modi, HOW is the route decided

PM Security Breach Case: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक का मुद्दा तूल का पकड़ता दिखाई दे रहा है. यह मामला अब सुप्रीम कोर्ट की दहलीज पर पहुंच चुका है, शुक्रवार को इस केस की सुनवाई होगी. इस बीच राज्य की चन्नी सरकार ने एक उच्च स्तरीय जांच टीम का गठन किया है जोकि तीन दिनों में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी. बताते चलें कि सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब के चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी को विभागीय कार्रवाई लंबित रहने तक उन्हें सस्पेंड करने के लिए कहा है. याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में अपील की है कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि इस तरह की घटना दोबारा न हो.

Also Read:

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लॉयर्स वॉयस संगठन की ओर से पेश हुए सीनियर वकील मनिंदर सिंह ने इस मामले को मुख्य न्यायाधीश की बेंच के सामने उठाया है. उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि इस तरह की घटना भविष्य में दोबारा ना हो. याचिका में बठिंडा में प्रधानमंत्री के काफिले को रोकने में सुरक्षा उल्लंघन की जांच की मांग की गई है.

बताते चलें कि प्रधानमंत्री का काफिला एक फ्लाईओवर पर करीब 20 मिनट तक रुका रहा था. जिसके बाद उनका दौरा रद्द किया गया था. केंद्र सरकार ने इसे भारी सूरक्षा चूक करार दिया था. इस चूक की वजह से पीएम मोदी फिरोजपुर में बिना कार्यक्रम में हिस्सा लिए ही बठिंडा एयरपोर्ट पर वापस लौट आए थे.

प्रधानमंत्री मोदी बुधवार सुबह बठिंडा पहुंचे थे, जहां से उन्हें हेलिकॉप्टर से हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाना था. बारिश और खराब मौसम की वजह से पीएम ने करीब 20 मिनट तक मौसम साफ होने का इंतजार किया. हालांकि जब मौसम में कोई सुधार नहीं हुआ तो यह तय किया गया कि वह सड़क मार्ग से राष्ट्रीय मेरीटर्स मेमोरियल का दौरा करेंगे, जिसमें 2 घंटे से अधिक समय लगेगा. पंजाब के DGP द्वारा सुरक्षा प्रबंधों की पुष्टि के बाद पीएम का काफिला सड़क मार्ग से आगे बढ़ा. हुसैनीवाला से लगभग 30 किलोमीटर दूर, जब PM का काफिला एक फ्लाईओवर पर पहुंचा, तो वहां कुछ प्रदर्शनकारियों ने सड़क को अवरुद्ध कर दिया था.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 6, 2022 12:44 PM IST

Updated Date: January 6, 2022 12:57 PM IST