Punjab Elections 2022: पंजाब में कांग्रेस जीती तो कौन बनेगा सीएम? सवाल पर बोले सिद्धू- ये हाईकमान तय नहीं करेगा

Punjab Assembly Elections 2022: कांग्रेस आलाकमान स्पष्ट कर चुका है कि पार्टी पांचों राज्यों में बिना सीएम उम्मीदवार के चुनाव में उतरेगी. मगर जब इसी मुद्दे पर पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू (Punjab Congress President Navjot Singh Sidhu) से सवाल पूछा गया उन्होंने कुछ और ही जवाब दिया.

Updated: January 11, 2022 5:25 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Ikramuddin Saifi

Punjab Elections 2022

Punjab Assembly Elections 2022: अगले दो महीनों में देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव संपन्न होने हैं. इसमें पंजाब जैसा प्रमुख राज्य भी शामिल हैं. प्रदेश में अभी कांग्रेस शासित सरकार है, जिसके मुखिया यानी सीएम चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) हैं. हालांकि कांग्रेस आलाकमान स्पष्ट कर चुका है कि पार्टी पांचों राज्यों में बिना सीएम उम्मीदवार के चुनाव में उतरेगी. मगर जब इसी मुद्दे पर पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू (Punjab Congress President Navjot Singh Sidhu) से सवाल पूछा गया उन्होंने कुछ और ही जवाब दिया. उन्होंने कहा कि पंजाब का सीएम कौन होगा ये पंजाब की जनता तय करेगी हाईकमान नहीं.

Also Read:

पंजाब तय करेगा कौन होगा सीएम
आज मंगलवार को एक प्रेस में कॉन्फ्रेंस में सिद्धू से एक पत्रकार ने पूछा- अगर पंजाब की अवाम कांग्रेस को बहुमत दे भी देती है तो क्या गांरटी है कि वो उन्हें (सिद्धू) सीएम बनाएगा. क्योंकि हाईकमान ने सीएम का कोई उम्मीदवार ही तय नहीं किया है? इसपर पंजाब कांग्रेस प्रमुख ने कहा- हर शख्स सीएम बनना चाहता है. सीएम तो पंजाब की जनता बनाएगी. ये आपको किसने कहा कि हाईकमान सीएम बनाएगा. सिद्धू ने आगे कहा- पंजाब के लोगों ने पांच साल पहले विधायक बनाए. कांग्रेस के विधायक होंगे या नहीं ये पंजाब के लोग ही तय करेंगे. साथ ही प्रदेश का सीएम कौन होगा ये पंजाब की जनता तय करेगी.

पंजाब में भी बिना सीएम चेहरा चुनाव लड़ेगी कांग्रेस
मालूम हो कि अगले महीने से शुरू पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित किए बिना मैदान में उतरेगी. पार्टी ने पंजाब में मुख्यमंत्री का मौजूदा चेहरा होने के बावजूद यह फैसला लिया है. कांग्रेस के सूत्रों का कहना है कि चुनाव के नतीजे आने के बाद ही मुख्यमंत्री चेहरे पर फैसला होगा और कांग्रेस विधायक दल आलाकमान की सहमति से नया नेता चुनेगा. पार्टी कुछ मौकों को छोड़कर आमतौर पर मुख्यमंत्री का चेहरा पेश नहीं करती है.

पंजाब और उत्तराखंड में हालांकि कांग्रेस के नेता चाहते हैं कि मुख्यमंत्री चहरे सामने लाकर चुनाव लड़ा जाए. उत्तराखंड में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू के समर्थक चाहते हैं कि उनके नेता को मुख्यमंत्री चेहरे के रूप में पेश किया जाए. लेकिन पार्टी का कहना है कि वह चुनाव से पहले अन्य गुटों को अलग-थलग करने का जोखिम नहीं उठाएगी. कांग्रेस को पंजाब में सत्ता बनाए रखने और उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में भाजपा के खिलाफ एक विश्वसनीय प्रदर्शन के साथ आने की बड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 11, 2022 5:14 PM IST

Updated Date: January 11, 2022 5:25 PM IST