पंजाब कांग्रेस में अंदरूनी कलह के बीच नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) मंगलवार को राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी से मुलाकात करेंगे. सिद्धू के कार्यालय के सूत्रों ने यह जानकारी दी. यह बैठक कांग्रेस के शांति फॉर्मूले से पहले है. माना जा रहा है कि राहुल गांधी असंतुष्ट नेता को शांत करने की कोशिश करेंगे और अगले साल होने वाले महत्वपूर्ण विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच चल रहे विवाद के सौहार्दपूर्ण समाधान के लिए दबाव डालेंगे.Also Read - भारतीय संघर्ष कर रहे हैं और प्रधानमंत्री उनका ध्यान भटकाने में व्यस्त, राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

सिद्धू ने मुद्दों को सुलझाने के लिए पार्टी प्रमुख सोनिया गांशी द्वारा गठित तीन सदस्यीय पैनल से भी मुलाकात की थी. पिछले हफ्ते पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़, वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल और सांसद प्रताप सिंह बाजवा और मनीष तिवारी ने राहुल गांधी से मुलाकात की और उन्हें राज्य में बढ़ रही अंदरूनी कलह के बाद की स्थिति से अवगत कराया. Also Read - Delhi By-elections 2022 Result: राजेंद्रनगर उपचुनाव में AAP ने मारी बाजी, दुर्गेश पाठक को मिली जीत

Also Read - मोदी को सुप्रीम क्लीन चिट के बाद कांग्रेस पर हमलावर बीजेपी, कहा- तीस्ता सीतलवाड़ के पीछे सोनिया गांधी का हाथ

बैठक के बाद सुनील जाखड़ ने कहा, ‘उम्मीद है कि मौजूदा स्थिति का समाधान हो जाएगा और कुछ गलत लोग विधायकों के परिजनों को नौकरी देने के फैसले पर मुख्यमंत्री को सलाह दे रहे हैं.’ उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के मुद्दे पर पार्टी नेतृत्व चर्चा कर रहा है. जबकि पंजाब के सीएम के एक और धुरंधर प्रताप सिंह बाजवा ने भी राहुल गांधी से मुलाकात की और कहा कि उन्होंने राज्य की जमीनी हकीकत और वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की.

मालूम हो कि साल 2019 में कैबिनेट मंत्री के पद से इस्तीफा देने वाले नवजोत सिद्धू और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के बीच तनातनी जारी है.

(इनपुट: एजेंसी)