Punjab Lockdown Update: पंजाब सरकार ने राज्य में जारी कोविड पाबंदियों में मंगलवार को छूट देते हुए 1 जुलाई से 50 फीसदी क्षमता के साथ बार और पब खोलने की अनुमति दे दी है. सरकार द्वारा जारी बयान के अनुसार, हालांकि, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि बार और पब मालिकों को सुनिश्चित करना होगा कि उनके कर्मचारियों को कोविड-19 टीके की कम से कम एक खुराक लग चुकी हो और दो गज की दूरी के प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन हो. राज्य में लागू पाबंदियों का अगला दौर 10 जुलाई तक जारी रहेगा.Also Read - कोरोना के मामलों में उछाल के बाद फिर शुरू हो रही पाबंदियां, यहां मास्क किया गया अनिवार्य; सीएम ने मांगी रिपोर्ट

कौशल विकास केन्द्रों और विश्वविद्यालयों को भी कक्षाएं चलाने की अनुमति होगी, लेकिन अनिवार्य शर्त है कि सभी कर्मचारियों और छात्रों को टीके की कम से कम एक खराक लगी हो. इससे पहले आईल्स (इंटरनेशनल इंग्लिश लैंग्वेज टेस्टिंग सिस्टम) कोचिंग संस्थानों को ऐसी ही शर्तों के साथ खोलने की अनुमति दी थी. Also Read - पंजाब में खत्म हुआ Night Curfew, शर्तों के साथ जिम, रेस्टोरेंट, मॉल्स खोलने का भी आदेश; जानें पूरी गाइडलाइंस

संक्रमण की दर में कमी पर संतोष जताते हुए मुख्यमंत्री ने कोविड समीक्षा बैठक में कहा कि कुछ जिलों में यह अभी भी एक प्रतिशत से ज्यादा है. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि कोरोना वायरस का डेल्टा प्लस स्वरूप चिंता का विषय है और संक्रमण की दर में कमी लाना आवश्यक है. उन्होंने इंगित किया कि मई और जून में डेल्टा प्लस स्वरूप (लुधियाना और पटियाला) के दो मामले आए हैं. Also Read - Punjab Unlock Update: पंजाब में 50% क्षमता के साथ बुधवार फिर से खुलेंगे रेस्तरां, सिनेमा हॉल व जिम लेकिन....

उधर, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से राज्य को कोविड-19 टीके की और खुराक उपलब्ध कराने का अनुरोध करते हुए कहा कि राज्य में कोविशील्ड का भंडार नहीं है और कोवैक्सीन के भी कम डोज उपलब्ध हैं. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने यह मुद्दा बार-बार केंद्र के समक्ष उठाया है और वह इसे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के समक्ष भी उठाएंगे. डिजिटल कोविड समीक्षा बैठक में पंजाब में टीकाकरण की स्थिति का जायजा लेते हुए सिंह ने कहा कि राज्य में 62 लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगाया गया है.

हालांकि, उन्होंने कहा कि पंजाब में टीके की बहुत कमी है. राज्य में मंगलवार को ही कोविशील्ड के टीके खत्म हो गये थे और कोवैक्सीन की सिर्फ 1,12,821 खुराक बची हुई है. उन्होंने केंद्र से अनुरोध किया है कि राज्य को टीके की और खुराक दी जाए.

(इनपुट: भाषा)