पंजाब (Punjab congress) में कांग्रेस में चल रही कलह के बीच पार्टी के नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi)आज शुक्रवार को दिल्‍ली (Delhi) में अपने निवास पर पार्टी के विधायकों से मुलाकात करेंगे. पंजाब से कांग्रेस पार्टी के लगभग ज्‍यादातर विधायक दिल्‍ली में राहुल गांधी से मिलकर उनके सामने राज्‍य में कांग्रेस पार्टी की स्थिति, आगामी चुनाव आदि को लेकर अपनी व्‍यक्तिगत राय रखेंगे.Also Read - अब सितंबर तक मुफ्त राशन देगी दिल्ली सरकार, सीएम केजरीवाल बोले- 73 लाख लोगों को होगा फायदा

बता दें बीते 22 जून को कांग्रेस हाईकमान द्वारा गठित तीन सदस्यीय समिति ने पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के साथ लंबी मंत्रणा की थी. दरअसल, कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्‍व आगामी विधानसभा चुनाव में जाने से पहले राज्‍य पार्टी के अंदर गुटबाजी और विरोधाभाषों को खत्‍म करके चुनावी जंग में एकजुट होकर उतरने की तैयारी की रणनीति पर काम कर रहा है. Also Read - भाई के साथ मिलकर पत्नी को मार डाला, जब पुलिस का डर सताया तो खुद ही थाने जाकर बोला- बीवी लापता है

Also Read - Udaipur Tailor Kanhaiya Murder: NIA करेगी टेलर कन्हैया तेली के मर्डर की जांच, हत्या के बाद प्रदेशभर में तनाव

कांग्रेस के सीनियर नेता और राज्‍यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे की अध्यक्षता वाली इस समिति और अमरिंदर के बीच यह बैठक तीन घंटे से अधिक समय तक चली थी. तीन सदस्‍सीय समिति ने हाल ही में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, कई मंत्रियों, सांसदों और विधायकों समेत पंजाब कांग्रेस के 100 से अधिक नेताओं से उनकी जानी थी. पंजाब के लिए गठित तीन सदस्‍यीय समिति में मल्लिकार्जुन खड़गे के अलावा कांग्रेस महासचिव और पंजाब प्रभारी हरीश रावत और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जेपी अग्रवाल इस समिति में शामिल हैं.

पंजाब कांग्रेस इकाई में हाल ही में सीएम अमरिंदर सिंह और पार्टी नेता नवजोत सिंह सिद्धू के बीच तीखी बयानबाजी सामने आई थी. सिद्धू एक बार फिर से मुख्यमंत्री को घेर रहे हैं. विधायक परगट सिंह और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कुछ अन्य नेताओं ने भी मुख्यमंत्री के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है.