बाड़मेर: राजस्थान के बाड़मेर जिले के जसोल गांव में रविवार को एक हादसे में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई. कई लोग घायल हो गए. एएनआई के अनुसार, इस दौरान 24 लोग घायल भी हो गए हैं. मृतकों की संख्या का आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है. बताया जा रहा है कि जसोल गांव के धाम में कथा के लिए बड़ा पंडाल लगाया गया था. रविवार दोपहर बाद आई तेज आंधी और बारिश से पंडाल का कुछ हिस्सा गिर गया और इससे वहां भगदड़ मच गई. वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हादसे पर दुख जताया है. राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने भी ट्वीट कर इस दुखद हादसे पर गहरा दुख व्‍यक्‍त किया है.

घटना की अभी पूरी जानकारी नहीं मिल पाई है, लेकिन बताया जा रहा है कि जसोल गांव के धाम में कथा के लिए बड़ा पंडाल लगाया गया था. लोग यहां पर रामकथा सुनने आए थे. रविवार दोपहर बाद आई तेज आंधी और बारिश और तूफान के कारण ये टेंट गिर और इससे वहां भगदड़ मच गई. इससे वहां करंट फैल गया. जिस कारण 14 लोगों की मौत हो गई. पंडाल का कुछ हिस्सा गिर गया.

इस घटना पर पीएम नरेंद्र मोदी ने दुख जताते हुए इस घटना को दुर्भाग्‍यशाली बताते हुए कहा कि घटना के शिकार लोगों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं. घायल लोगों के शीघ्र ठीक होने की कामना करता हूं.

बालोतरा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतन लाल भार्गव ने कहा, ”14 व्यक्तियों की मौत हुई है और लगभग 50 अन्य घायल हुए हैं. घायलों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है. प्रधानमंत्री मोदी ने घटना पर खेद जताते हुए मृतकों के परिजन के प्रति संवेदना जताई है। प्रधानमंत्री कार्यालय के ट्विटर हैंडल के जरिए उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य होने की प्रार्थना की.

 

मुख्यमंत्री गहलोत ने हादसे पर खेद जताते हुए ट्वीट किया, ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करने,शोकाकुल परिजनों को सम्बल देने की प्रार्थना है। घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि संबंधित अधिकारियों को जांच के आदेश दिए गए हैं तथा स्थानीय प्रशासन द्वारा राहत बचाव का कार्य किया जा रहा है. उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित अनेक नेताओं ने भी हादसे पर खेद जताया है.

पुलिस का कहना है कि बड़ी संख्या में लोग घायल हैं, जिनको पास के बालोतरा और अन्य कस्बों के अस्पतालों में ले जाया जा रहा है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक खींव सिंह भाटी के अनुसार, कम से कम 14 लोगों की मौत हो चुकी है. उन्होंने कहा कि दसियों लोग घायल हैं जिन्हें अलग अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.  (इनपुट- एजेंसी)