जयपुरः राजस्थान के टोंक शहर में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 12 नये मामलों की पुष्टि होने के बाद यह जिला अब राज्य का नया वायरस का केन्द्र बन गया है. एक अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार को राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के 46 नये मामले सामने आये हैं. अब राज्य में वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 179 हो गई है. नये 46 संक्रमित मरीजों में टोंक के 12 और ईरान से जोधपुर लाये गये 9 संक्रमित मरीज शामिल हैं. Also Read - मोदी सरकार का किसानों के लिए कर्ज माफ़ी का बड़ा प्लान, 1 लाख करोड़ के लोन होंगे माफ़!

टोंक में सर्वे करने गई टीमों ने लोगों द्वारा सहयोग नहीं करने की शिकायत की जिसके बाद अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि फील्ड टीम को स्क्रीनिंग में किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो. Also Read - महाराष्‍ट्र में कोरोना से आज 85 मौतें के साथ अब तक करीब 2000 मृत, कुल 60 हजार पॉजिटिव केस

टोंक में बुधवार को तबलीगी जमात से जुड़े चार लोगों में संक्रमण की पुष्टि होने के बाद उनके सम्पर्क में आये 12 लोगों को शुक्रवार को संक्रमित पाया गया. संक्रमित मरीजों की संख्या में वृद्धि होने से बनी गंभीर स्थिति को देखते हुए शुक्रवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक टीम ने टोंक का दौरा किया और अधिकारियों के साथ चर्चा की. Also Read - कांग्रेस का दावा- 'स्पीक अप इंडिया' सबसे बड़ा डिजिटल आंदोलन, 57 लाख लोग LIVE आए, 10 करोड़ लोगों ने देखे VIDEO

जिला कलेक्टर किशोर कुमार शर्मा ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के दो सदस्यीय दल ने आज टोंक का दौरा किया और यहां किये जा रहे कार्यो का अवलोकन किया. उन्होंने वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिये प्रोटोकॉल और दिशानिर्देशों के तहत उठाये गये कदमों पर संतुष्टि व्यक्त की है.

जयपुर में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा कि कोरोना संक्रमण की जानकारी छिपाने, फैलाने और सेवा में लगे स्वास्थ्यकर्मियों के साथ दुर्व्यवहार करने के मामलों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

उन्होंने नयी दिल्ली में निजामुद्दीन मरकज में धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले लोगों से अपनी और दूसरों की सुरक्षा के मद्देनजर परीक्षण के लिए आगे आने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या में पिछले 24 घंटों में तेजी से वृद्धि हुई है. यह चिंताजनक मामला है.

शर्मा ने कहा, ‘‘मैंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों और अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक कर स्थिति की समीक्षा की है और उनसे फीडबैक लेकर आवश्यक दिशानिर्देश दिये हैं.’’ राज्य में पाये गये नये संक्रमित मामलों में 19 तबलीगी जमात से जुड़े हैं.