जयपुर: राजस्थान के अलवर जिले में मंगलवार सुबह आसमान में तेज प्रकाश पुंज दिखने के बाद कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं. कुछ लोगों का मानना है कि आकाश से उल्कापिंड जैसी कोई चीज तेज चमक के साथ जमीन पर गिरी. हालांकि, अधिकारियों ने ऐसी किसी घटना या किसी तरह का मलबा मिलने की पुष्टि नहीं की है. Also Read - Covid-19: देश के इन 10 राज्‍यों में कोरोना वायरस संक्रमण से 77 फीसदी हुईं नई मौतें

यहघटना मंगलवार सुबह करीब 5.18 बजे इटारना औद्योगिक क्षेत्र में एक सीसीटीवी में कैद हुई. जिले के भाखेड़ा क्षेत्र में भी यह घटना एक सीसीटीवी में दर्ज हुई. इन कैमरों में तेज रोशनी की एक लकीर जमीन की तरफ आती हुई दिखी है. Also Read - Rajasthan Lockdown Update: राजस्थान में लॉकडाउन को लेकर राज्य सरकार का बड़ा फैसला, जारी किए जाएंगे सख्त दिशानिर्देश

अलवर के अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) उत्तम सिंह शेखावत ने कहा, जिन इलाकों में तेज रोशनी दिखी, वहां उल्का पिंड जैसी कोई चीज गिरने के सबूत नहीं मिले हैं. Also Read - COVID19: Rajasthan CM अशोक गहलोत कोरोना वायरस से पॉजिटिव निकले

गांव भाखेड़ा निवासी अधिवक्ता राजेश कुमार गुप्ता ने कहा, मेरे आवास के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में बहुत तेज रोशनी देखी गई. हालांकि आसपास के इलाके में कोई वस्तु गिरने या किसी तरह के नुकसान का पता नहीं चला है.

खगोलविदों की एक टीम भी जिले के उन गांवों में पहुंच गई है, जहां की यह घटना बताई जा रही है.

खगोल विज्ञान के क्षेत्र में काम कर रही निजी कंपनी स्पेस इंडिया के तरुण शर्मा ने कहा, यह उल्कापिंड गिरने जैसी घटना है, जो पृथ्वी पर गिरने से पहले ही वायुमंडल में जल गया. ग्रामीणों ने तेज रोशनी तो देखी, लेकिन जमीन पर कोई भी चीज नहीं मिली.