नई दिल्लीः राजस्थान (Rajasthan) में टिड्डियों के हमले से किसान खासे परेशान हैं. सिर्फ किसान ही नहीं बल्कि सरकार भी टिड्डियों के हमले को रोकने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है. लेकिन, हर कोशिश के बाद भी सरकार को सफलता मिलती नहीं दिख रही है. इस बीच राजस्थान सरकार ने टिड्डियों के हमले को नियंत्रित करने के लिए एक नई कवायद शुरू की है, जिसके तहत अब टिड्डियों के हमले को रोकने के लिए ड्रोन का सहारा लिया जा रहा है. Also Read - राजस्‍थान के कई विधायकों समेत सचिन पायलट दिल्ली आए, सोनिया गांधी से मांगा वक्‍त

राजस्थान में टिड्डियों के चलते पूरी खेती नष्ट हो रही है. किसानों को लाखों का नुकसान झेलना पड़ रहा है. ऐसे में राजस्थान सरकार ने ड्रोन के जरिए खेतों में कीटनाशक का छिड़काव शुरू किया है. यह कीटनाशक फसल को टिड्डियों से बचाने के लिए छिड़का जा रहा है. दरअसल, पिछले कुछ दिनों में राजस्थान के कई शहरों में टिड्डी दल का आक्रमण जारी है, ऐसे में किसानों की समस्या को समझते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है. टिड्डी दल ने धोलापुर शहर में भी काफी आतंक मचाया. इसके डर से लोग घरों के अंदर ही दुबके रहे. Also Read - Rajasthan Update: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, अब राज्य से बाहर जाने के लिए जरूरी होगा ई-पास, ये हैं यात्रा के नए नियम

इसके तहत कृषि विभाग ने कल जयपुर के सामोदे में टिड्डियों की आवाजाही पर नजर रखने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया. कृषि विभाग के आयुक्त डॉ ओम प्रकाश चौधरी कहते हैं, “हम ड्रोन का उपयोग उन इलाकों में टिड्डियों की निगरानी करने के लिए कर रहे हैं, जहां हमारे लिए इन पर नजर रखना मुश्किल हो रहा है.”

बता दें सिर्फ ग्रामीण इलाकों और फसलों पर ही नहीं, पिछले दो दिनों से टिड्डियों ने राजस्थान के शहरी इलाकों पर भी आक्रमण शुरू कर दिया है. पिछले दो दिनों में जयपुर में टिड्डी दल ने दो बार आक्रमण किया और फिर शहर से निकलकर यह दल आसपास के गांव जा पहुंचा. जिसके बाद टिड्डी दल ने जयपुर के आसपास के गांवों में जाकर खेतों में जाकर खूब उत्पात मचाया.