कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasra) ने रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) के आगामी विधानसभा चुनाव (Rajasthan Polls) में राज्य में दो तिहाई बहुमत से सत्ता में आने के दावे पर पलटवार किया. डोटासरा ने कहा कि उनका यह सपना पूरा नहीं होगा. डोटासरा ने आरोप लगाया कि भाजपा लोगों को धर्म के नाम पर बांटकर सत्ता में आयी है. उन्होंने कहा, ‘शाह का दो तिहाई बहुमत से सत्ता में आने का सपना ही है, क्योंकि देश की जनता महंगाई से त्रस्त है.’ उन्होंने कहा कि ये लोग (BJP नेता) अहंकार में हैं. यह अमित शाह के स्वागत के दौरान भी दिखाई दिया, जब उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं की ओर देखा तक नहीं.Also Read - अलवर कांड: नाबालिग से रेप केस की जांच CBI से कराई जाएगी, राजस्थान सरकार का फैसला

पेट्रोल डीजल पर वैट कम करने के लिए कांग्रेस सरकार पर दबाव बनाने के लिये पार्टी कार्यकर्ताओं से अमित शाह के आह्वान पर डोटासरा ने कहा कि शाह को जानकारी नहीं है कि राज्य सरकार पहले ही पेट्रोल और डीजल पर वैट कम कर चुकी है. बता दें कि अमित शाह ने रविवार को पार्टी जनप्रतिनिधियों के सम्मेलन में दावा किया कि राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा (BJP) की दो तिहाई बहुमत से सरकार बनेगी. Also Read - PM Modi High Level Meeting: कोरोना संकट पर प्रधानमंत्री मोदी ने की मुख्यमंत्रियों संग बैठक, अमित शाह भी रहे मौजूद

गृहमंत्री अमित शाह ने राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए इसे ‘भ्रष्ट, निकम्मी व बैसाखी के सहारे’ चलने वाली सरकार करार दिया और कहा कि वह केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं में रोड़े अटका रही है. इसके साथ ही भाजपा के केंद्रीय नेताओं पर राज्य की कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने का प्रयास करने के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आरोपों पर पलटवार करते हुए शाह ने कहा, ‘भाजपा आपकी सरकार नहीं गिराएगी बल्कि 2023 में पूर्ण बहुमत से अपनी सरकार बनाएगी.’ Also Read - BJP ने UP की 172 विधानसभा सीटों के लिए उम्‍मीदवारों के नाम फाइनल किए, पहली लिस्‍ट कल हो सकती है जारी

शाह ने दावा किया कि राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की दो तिहाई बहुमत से सरकार बनेगी. एक दिवसीय दौरे पर जयपुर पहुंचे शाह भाजपा जनप्रतिनिधियों के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. मुख्यमंत्री गहलोत पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा, ‘उनको हमेशा डर रहता है कि मेरी सरकार गिर जाएगी, मेरी सरकार गिर जाएगी… भइया कौन गिरा रहा है? कोई नहीं गिरा रहा। मगर आप ऐसा क्यों कर रहे हो कि आपके ही लोग भागे जा रहे हैं?’

(इनपुट: भाषा)