जयपुर: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने सोमवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. इसी के साथ अशोक गहलोत तीसरी बार राज्य की कमान संभालेंगे. उनके साथ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने भी शपथ ली जो इस सरकार में उप मुख्यमंत्री होंगे. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी नेताओं के साथ-साथ राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की मौजूदगी  में दोनों नेताओं का शपथ ग्रहण कार्यक्रम संपन्न हुआ.

गहलोत तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बने हैं. वह 1998 में पहली बार मुख्यमंत्री बने और 2008 में दूसरी बार मुख्यमंत्री का पदभार संभाला. उप मुख्यमंत्री बने सचिन पायलट फिलहाल राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हैं. वह लोकसभा सदस्य और मनमोहन सिंह सरकार में मंत्री रह चुके हैं. सचिन अपने जमाने में कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत राजेश पायलट के पुत्र हैं.

1984 के सिख विरोधी दंगे: कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को उम्र कैद, कोर्ट ने कहा- सत्य की होगी जीत

राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को जीत मिलने के बाद मुख्यमंत्री पद के चयन को लेकर लंबी खींचतान हुई. गहलोत और पायलट दोनों इस पद की दौड़ में शामिल थे. मैराथन बैठकों और गहन मंथन के बाद गत 14 दिसंबर को कांग्रेस अध्यक्ष ने गहलोत को मुख्यमंत्री और पायलट को उप मुख्यमंत्री नामित करने का फैसला किया. शपथ ग्रहण समारोह में राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे भी मौजूद रहीं.