नई दिल्ली: राजस्थान में कांग्रेस पार्टी व अशोक गहलोत सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे है. पार्टी के भीतर का मनमुटाव अब खुलकर सामने आ रहा है. ऐसे में अशोक गहलोत सुबह 10 बजे से ही पार्टी विधायकों से मिल रहे हैं. इस बाबत कांग्रेस सरकार ने कहा है कि सभी विधायक जयपुर पहुंचे. जयपुर में मुख्यमंत्री आवास अशोक गहलोत के घर पर आज रात 9 बजे एक बैठक बुलाई गई है. Also Read - पंजाब के बाद अब केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ विधेयक लाएगी राजस्थान की कांग्रेस सरकार

राजस्थान के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बताया कि कैबिनेट की बैठक में अशोक गहलोत ने कहा कि विधायक और मंत्रियों का फोन अगर नहीं लग रहा, अगर फोन बंद भी आ रहा है तब भी उनसे जानकर संपर्क करने की कोशिश करें. सरकार बचाने की जिम्मेदारी सबकी है. Also Read - दलितों के खिलाफ बढ़ा अत्याचार, सबसे मुश्किल दौर से गुजर रहा है भारतीय लोकतंत्र : सोनिया गांधी

मंत्री ने कहा कि अशोक गहलोत दिल्ली गए सभी विधायकों के संपर्क में है. अगर कोई भी विधायक हमारे प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट के साथ दिल्ली गया है इसका मतलब यह तो नहीं कि वह अशोक गहलोत के खिलाफ है. बता दें कि सचिन पायलट ने सोनिया गांधी से मिलने का समय मांगा है. फिलहाल वो किसी भी विधायक मंत्री या बड़े नेता का फोन नहीं उठा रहे हैं. शनिवार की रात पार्टी के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल से उनकी बात हुई थी.