जयपुर। जयपुर एटीएस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए दिल्ली-अहमदाबाद के बीच चलने वाली एक प्राइवेट बस से 4 करोड़ रुपये बरामद किए हैं. इतनी बड़ी रकम की बरामदगी के इस ऑपरेशन में इनकम टैक्स विभाग भी एटीएस के साथ शामिल था. एटीएस को शक था कि इस रकम का इस्तेमाल टेरर फंडिंग के लिए होना था. Also Read - Ayurveda Day: पीएम मोदी ने आयुर्वेद सस्थानों का किया उद्घाटन, बोले- 'कोरोना से निपटने में पारंपरिक चिकित्सा पद्धति का बड़ा योगदान'

बताया जा रहा है कि इसके तार भीलवाड़ा से जुड़े हैं. यह नेटवर्क टेरर फंडिंग के शक पर एटीएस के रडार पर आया था. हवाला कारोबार को लेकर भीलवाड़ा में भी दबिश चल रही है. विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है.