जयपुर: राजस्‍थान में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस ने बीजेपी पर राज्‍यसभा चुनावों के लिए हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप लगाते हुए है कि राज्‍य सभा के चुनाव दो माह पहले हो गए, लेकिन इन्‍हें बिना वजह रोक दिया गया, क्‍योंकि बीजेपी की हॉर्स ट्रेडिंग पूरी नहीं हुई थी. मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को भाजपा पर यह आरोप लगाते हुए कहा कि हम संगठित हैं, हमारे एक भी विधायक का वोट राज्‍यसभा चुनाव में किसी और को नहीं जाएगा. Also Read - पूर्वांचल का बागी नेता Chandra Shekhar जिसने कभी इंदिरा गांधी तो कभी राजीव को नकारा, जानें युवा तुर्क के पीएम की कुर्सी तक पहुंचने की कहानी

कांग्रेस की जयपुर में आयोजित एक प्रेस कॉफ्रेंस को सीएम अशोक गहलोत, डिप्‍टी सीएम सचिन पायलट ने संबोधित किया. Also Read - कांग्रेस का सवाल- भारतीय सेना LAC पर हमारी ही सरजमी से क्यों हट रही है पीछे, क्या पीएम मोदी के शब्दों के मायने नहीं?

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को कहा कि राजस्थान से राज्यसभा की सीट पर कांग्रेस के दोनों प्रत्याशी जीतेंगे और इसमें किसी को भ्रम नहीं होना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने भाजपा एवं उसके आलाकमान पर आरोप लगाया कि राजस्थान में सरकार तोड़ने के लिए षड्यंत्र किया जा रहा है. Also Read - 'मैं महाराजा, टाइगर और मामा नहीं और न चाय बेचता हूं, मैं कमलनाथ हूं'

एक-एक वोट हमें मिलेगा चाहे निर्दलीय का हो या बसपा के विधायक
गहलोत ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ”राजस्थान में हम दोनों सीटें जीतेंगे और इसमें किसी को भ्रम नहीं होना चाहिए. पूरी उम्मीद करता हूं कि एक-एक वोट हमें मिलेगा चाहे निर्दलीय साथियों का हो या हमारे साथ विलय होने वाले बसपा के विधायकों का वोट हो. भारतीय ट्राइबल पार्टी बीटीपी से भी दो लोग हमारे साथ आ चुके हैं.’’

माकपा के दो विधायकों के लिए येचुरी से आग्रह किया
गहलोत ने कहा, ”माकपा के दो विधायकों के लिए हमने सीताराम येचुरी से आग्रह किया है वे हमें समर्थन दें. हम सब एकजुट होकर इन फासीवादी ताकतों को हराएंगे. इस संकल्प के साथ हम लोग यहां इकठ्ठे हैं.”

पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधा
सीएम गहलोत ने बीजेपी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधा और कहा, ”देश में लोकतंत्र की हत्या हो रही है. नरेंद्र मोदी हों या अमित शाह.. दो लोग फैसले कर रहे हैं पूरे देश में जो देश में अच्छी परंपरा नहीं है.” उन्होंने कहा कि कोरोना से उत्पन्न संकट के बावजूद भाजपा सरकारें तोड़ने में लगी है.

मध्य प्रदेश में सरकार तोड़ दी, अब राजस्थान में षड्यंत्र कर रहे हैं
गहलोत ने कहा, ”कोरोना पूरी दुनिया में चुनौती है और इस समय भी तोड़फोड़ करना उनकी फितरत में है. मध्य प्रदेश में सरकार तोड़ दी, अब राजस्थान में षड्यंत्र कर रहे हैं. ये लोग जनता के सामने बेनकाब हो चुके हैं.”

गुजरात के हमारे साथी अकारण यहां आकर बैठे हुए थे
गहलोत ने कहा, ”ये चुनाव पहले हो सकते थे, तैयारियां हो चुकी थीं उसके बावजूद बिना कारण के इन चुनावों को स्थगित कर दिया गया. उस वक्त भी मैंने कहा था कि बीजेपी की खरीद-फरोख्त पूरी नहीं हुई है, जिस कारण चुनावों को स्थगित किया गया. गुजरात के हमारे साथी अकारण यहां आकर बैठे हुए थे. अब जब चुनाव प्रक्रिया शुरू हुई है तो चार लोग गुजरात में इस्तीफा दे चुके हैं.”

19 जून को राज्‍यसभा चुनाव
राजस्थान में राज्यसभा की तीन सीटों के लिए 19 जून को चुनाव होगा, जिसके लिए कांग्रेस ने के सी वेणुगोपाल ओर नीरज डांगी को प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में उतारा है. वहीं, भाजपा ने शुरूआत में राजेन्द्र गहलोत को अपना प्रत्याशी बनाया था, लेकिन पार्टी ने नामांकन के अंतिम दिन ओंकार सिंह लखावत को दूसरे प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतार कर सबको चौंका दिया था.