नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव के बयान से नाराज राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने चुनाव आयोग से संज्ञान लेने की बात कही है. उन्होंने कहा कि वह शरद यादव के बयान से अपमानित महसूस कर रही हैं. वसुंधरा राजे ने कहा, भविष्य में उदाहरण प्रस्तुत करने के लिए यह जरूरी है कि चुनाव आयोग इस तरह की भाषा के खिलाफ कार्रवाई करे. मैं खुद को अपमानित महसूस कर रही हूं. मेरे साथ ही महिलाएं भी अपमानित महसूस कर रही हैं.

राजस्थान में चुनाव प्रचार के दौरान शरद यादव ने सीएम वसुंधरा राजे के खिलाफ विवादित टिप्पणी की थी. शरद यादव ने कहा था, वसुंधरा राजे को आराम दो, थक गई हैं. बहुत मोटी हो गई हैं. शरद यादव की टिप्पणी के बाद सोशल मीडिया पर इसकी आलोचना शुरू हो गई.

मुंडावर सीट पर बुधवार को कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी के समर्थन में सभा में लोगों को संबोधित करते हुए शरद ने वसुंधरा सरकार की आलोचना की और इसी दौरान सीएम पर विवादित टिप्पणी की. हालांकि बाद में उन्होंने कहा कि मैंने मजाक किया था, सीएम वसुंधरा राजे के साथ मेरे पुराने संबंध हैं. बयान का मतलब किसी को अपमानित करना नहीं था. मेरे इरादा किसी की भावना को हर्ट करना नहीं था. जब मैं उनसे मिला था तो मैंने कहा था कि उनका वजन बढ़ रहा है.