जयपुर: पूरी दुनिया में खतरनाक कोरोना वायरस की वजह से त्राहिमाम मचा हुआ है. भारत में भी कोरोना वायरस से संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. इसके प्रसार को रोकने के लिए सरकार कई एहतियात कदम उठा रही है. राजस्थान की बात करें तो यहां कोरोना वायरस के संक्रमण के नौ नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 140 हो गई है. Also Read - देश के 19 राज्‍यों में कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की दर राष्‍ट्रीय औसत से बेहतर: केंद्र

अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) रोहित कुमार सिंह ने बताया कि टोंक में नौ साल के एक बच्चे सहित पांच लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है जिनमें एक महिला है. ये सभी लोग पहले से संक्रमित उस व्यक्ति के संपर्क में आए थे जो तबलीगी जमात में शामिल होकर लौटा था. इससे पहले भी राज्य में संक्रमित कुल लोगों में से 14 निजामुद्दीन मरकज में आयोजित तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए थे. इन मामलों में एक जोधपुर का है. वहीं झुंझुनू, भरतपुर व धौलपुर में एक-एक मामला आया है, और ये सभी लोग तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए थे. राज्य के कुल 131 पॉजिटिव मामलों में 18वे लोग भी शामिल हैं जिन्हें ईरान से लाकर यहां रखा गया है. Also Read - Punjab Lockdown Extension News: जमावड़े पर लगी रोक, शादी समारोह में केवल इतने लोग होंगे शामिल

राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक टीम शुक्रवार को टोंक शहर में सर्वे करेगी. उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बताया कि बीते चौबीस घंटे में राजस्थान में कोरोना संक्रमितों की संख्या काफी बढ़ी है और टोंक में अनेक नए मामले सामने आए हैं. टोंक में सात नए मामले तो शुक्रवार को ही आए हैं और यहां कुल संख्या 16 हो गई है. पायलट ने ट्वीट कर कहा कि हम इस बारे में डब्ल्यूएचओ के निर्देशों व रपट का कड़ाई से पालन करेंगे. उन्होंने लिखा है कि कोरोना वायरस के संक्रमण पर काबू पाना व रोकना हमारी शीर्ष प्राथमिकता है. Also Read - PM मोदी ने सुंदर पिचाई से की वीसी, गूगल भारत में 10 बिलियन डॉलर का निवेश करेगा