Coronavirus Vaccination in Rajasthan Updates: राजस्थान के चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के उद्देश्य से किये जाने वाले टीकाकरण के लिए चिकित्सा विभाग ने सभी तैयारियां पूर्ण कर ली हैं. शर्मा ने बताया कि प्रदेश में 16 जनवरी से प्रारंभ होने वाले कोरोना टीकाकरण के प्रथम चरण में करीब 4.5 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल किया गया है, जिन्हें कोविशील्ड कोरोना टीका लगाया जायेगा. उन्होंने बताया कि 282 सैशन साइट पर प्रथम चरण का टीकाकरण होगा. Also Read - बिहार में कोरोना का पहला टीका सफाई कर्मचारी को लगेगा, टीकाकरण की तैयारियां पूरी

शर्मा ने रविवार को बताया कि कोविड टीके का भंडारण हवाई उड़ान सेवाओं से जुडे़ तीन जिलों – जयपुर, उदयपुर व जोधपुर – में किया जाएगा. यहां टीके को 2 से 8 डिग्री के मध्य रखने की व्यवस्था की गई है. Also Read - कोरोना वैक्सीनेशन के लिए अब चुनाव आयोग के डेटा का होगा प्रयोग, कल से शुरू होगा देशभर में टीकाकरण

चिकित्सा मंत्री ने बताया कि राज्य में कोविड टीका के भंडारण के तीन राज्य स्तरीय व सात संभाग स्तरीय एवं 34 जिला स्तरीय टीका भंडार बनाया गया है. शर्मा ने कहा कि सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर 2,444 कोल्ड चैन पॉइन्ट्स कार्यशील हैं और प्रत्येक जिले में एक टीका वाहन भी उपलब्ध है. उन्होंने बताया कि टीकाकारण के दौरान किसी भी प्रतिकूल प्रभाव से बचाव के लिए टीकाकरण केंद्रों पर 104 व 108 एंबुलेंस की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी. Also Read - Coronavirus Cases in India: राहत की खबर, देश में घटे अंडर ट्रीटमेंट कोरोना केसेस, स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किए आंकड़े

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि प्रथम चरण टीकाकरण के लिए 5,626 टीकाकरण दलों को प्रशिक्षित किया गया है. प्रथम चरण में 3689 चिकित्सा संस्थानों एवं 2969 निजी क्षेत्र के चिकित्सा संस्थानों को टीकाकरण के लिए चिन्हित किया गया है. इनमें से 3736 चिकित्सा संस्थानों को सत्र स्थल के रूप में कोविन सॉफ्टवेयर अपलोड कर दिया गया है.

चिकित्सा मंत्री ने बताया कि सभी वैक्सीनेशन सत्र स्थलों पर टीकाकरण के पश्चात होने वाले संभावित प्रतिकूल प्रभाव के ईलाज की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है. साथ ही कोविड टीकाकरण से सम्बन्धित भारत सरकार से प्राप्त प्रचार. प्रसार सामग्री के मुद्रण एवं वितरण की व्यवस्था की गई है.