जोधपुर: एयर इंडिया की उड़ान से चार पुलिसकर्मियों द्वारा मुम्बई से जोधपुर ले जाए जा रहे एक व्यक्ति ने चालक दल से यह झूठ बोलकर एयरलाइंस के कर्मियों और यात्रियों को सकते में डाल दिया कि चारों उसका अपहरण कर ले जा रहे हैं. पुलिस उपायुक्त (पूर्व) अमनदीप सिंह ने बताया कि सोमवार को यहां उड़ान एआई 645 (मुम्बई-जोधपुर) के उतरने के बाद पुलिस ने दिनेश सुथार नामक इस व्यक्ति और उसके साथ चल रहे चार अन्य को हिरासत में ले लिया. उसे लेकर आ रहे चारों कर्नाटक पुलिस के कर्मी निकले.

सिंह के अनुसार पूछताछ के दौरान सुथार ने पुलिस को बताया कि उसने मैसुरु में एक लापता बच्चे के परिवार के सदस्यों से संपर्क किया और उनके द्वारा घोषित ईनाम हड़पने के लिए उसने उनसे झूठ बोल दिया कि वह (उनका गुमशुदा बच्चा) जोधपुर में एक तांत्रिक के पास है. अधिकारी ने कहा कि उसने उन्हें बताया कि वह उन्हें जोधपुर ले जा सकता है, उसके बाद लड़के के परिवार के दो सदस्य मैसुरु पुलिस के चार पुलिसकर्मियों को लेकर उसके साथ जोधपुर के लिए रवाना हो गए.

सिंह के मुताबिक रास्ते में सुथार डर गया और उसने चालक दल और यात्रियों को यह मनगढंत कहानी सुना दी कि उसके साथ चल रहे लोगों ने उसे अगवा कर लिया है. चालक दल ने हवाई अड्डा प्रशासन और विमानपत्तनम कार्यालय को सूचना दी. अधिकारी ने कहा, ‘जोधपुर हवाई अड्डे पर उतरने के शीघ्र बाद हमने उड़ान को अपने कब्जे में ले लिया और सभी पांचों व्यक्तियों को हिरासत में ले लिया.’ उन्होंने कहा कि हमने सुथार को गिरफ्तार कर लिया है और बाकी चार पुलिसकर्मियों को रिहा कर दिया. उन्होंने कहा कि भाषा को लेकर कुछ संशय पैदा हो रहा है क्योंकि पुलिसकर्मी कर्नाटक के हैं. इस बीच, अन्य यात्रियों को करीब दो घंटे तक विमान से उतरने नहीं दिया गया जिससे उन्हें परेशानी हुई. एयर इंडिया के अधिकारी ने इस घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि मामले की पुलिस जांच चल रही है.