जयपुर: राजस्थान सरकार ने सोमवार को राज्य में पान गुटखा,तम्बाकू की बिक्री और रेड जोन में सार्वजनिक पार्को, टैक्सी और कैब सेवा शुरू करने का निर्णय लिया है. गृह विभाग ने चौथे चरण के लॉकडाउन के आदेश के तहत प्रतिबंधित गतिविधियों में से पान,गुटखा, तम्बाकू आदि की बिक्री को हटाते हुए स्पष्ट किया है कि कोई भी व्यक्ति इन चीजों का उपयोग सार्वजनिक स्थानों पर नहीं कर सकेगा. Also Read - IPL 2020 का दूसरे देश में होना लगभग तय, BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली के इस बयान से हुआ साफ

आदेश के मुताबिक सार्वजनिक स्थानों पर थूकना अभी भी दंडनीय अपराध है. लॉकडाउन 4.0 के दिशा निर्देशों में संशोधन करते हुए राज्य सरकार ने रेड जोन में सामाजिक दूरी और सेनेटाइजेशन की शर्ते सुनिश्वित करते हुए टैक्सी, आटो और कैब की सेवाओं की स्वीकृति दी है. Also Read - Coronavirus In India Update: देश में संक्रमितों की संख्या 7 लाख के पार, कुल 20 हजार से अधिक लोगों की मौत

सरकार ने रेड जोन इलाकों में सुबह सात बजे से शाम 6.45 बजे तक सार्वजनिक पार्कों को खोलने की अनुमति प्रदान की है. उल्लेखनीय है कि ऑरेंज और ग्रीन जोन में आने वाले इलाकों में इन गतिविधियों की पहले से अनुमति थी. Also Read - कोविड-19 महामारी के बीच भारतीय फुटबॉलर की पत्नी कर रही हैं वो काम जिसे दुनिया कर रही सलाम!

संशोधित आदेश में यह भी स्पष्ट किया गया कि हाथ रिक्शा, कियोस्क,खाने की छोटी दुकानें, जूस, चाय और अन्य सामान की दुकानों को स्वीकृति प्रदान की गई है लेकिन स्वच्छता, स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा. इसके साथ ही लोगों के एकत्र होने पर लगी रोक पहले की तरह जारी रहेगी.

छोट कामगार लगातार लॉकडाउन में छूट की मांग कर रहे थे. हालांकि राज्य सरकार ने लॉकडाउन में छूट के साथ यह भी कहा है कि हमें नियमों का पालन करना जरूरी है. राज्य स्वास्थ्य विभाग की तरफ से भी कहा गया है कि जब भी घर से बाहर निकलें तो मास्क अवश्य पहने. और आपस में सोशल डिस्टेंसिंग  का पालन जरूर करें.