Corona Cases In Rajasthan: ऐसा लगता है कि राजस्थान में कोरोना संक्रमण पर काबू पा लिया गया है. राज्य में बृहस्पतिवार को बीते चौबीस घंटे में कोरोना वायरस के संक्रमण से एक भी मौत दर्ज नहीं की गई. राज्य में लंबे समय बाद ऐसा हुआ है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस पर संतोष जताते हुए जनता से सावधानी बनाए रखने की अपील की है.Also Read - Udaipur Murder Updates: टेलर की हत्या के बाद तनाव, पूरे राजस्थान में धारा 144 लागू, इंटरनेट भी बंद; कई इलाकों में कर्फ्यू

चिकित्सा विभाग के अनुसार राज्य में बीते चौबीस घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 147 नये मामले सामने आये. वहीं इस दौरान घातक संक्रमण से किसी भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई. राज्य में इस संक्रमण से अब तक कुल 8905 लोगों की मौत हो चुकी है. राज्य में 2019 संक्रमित उपचाराधीन हैं. Also Read - सीएम गहलोत के बयान पर Sachin Pilot ने तोड़ी चुप्पी, बोले- 'पहले भी कह चुके हैं नाकारा, निकम्मा लेकिन...'

मुख्यमंत्री गहलोत ने इसका जिक्र करते हुए ट्वीट किया,‘‘आज कई महीनों के बाद प्रदेश में कोरोना के कारण कोई मृत्यु नहीं हुई है जो बेहद संतोषप्रद है.’’ गहलोत के अनुसार यदि हम सभी मास्क सहित कोविड प्रोटोकॉल का सही से पालन करें तो कोविड को हराया जा सकता है. Also Read - 13 साल के बच्चे ने मां-बाप पर किया साइबर अटैक, फोन हैक कर पोस्ट की अश्लील तस्वीरें | Watch Video

उन्होंने कहा,‘‘सभी लोग अपनी बारी आने पर वैक्सीन भी अवश्य लगवाएं. भारत में कोरोना का एक नया रूप डेल्टा प्लस भी प्रवेश कर गया है और देश में इसके 40 से अधिक संक्रमित मिल चुके हैं. ये दूसरी लहर में फैले कोरोना के डेल्टा वैरिएंट से भी अधिक खतरनाक है, इसलिए भी अब अतिरिक्त सावधानी की आवश्यकता है.’’

इसके साथ ही गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की उस बात को प्रासंगिक बताया है कि कांग्रेस को सभी का टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए. गहलोत के अनसार हमें पर्याप्त संख्या में टीके उपलब्ध करवाने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव बनाए रखना होगा.