नई दिल्लीः राजस्थान की सियासत इन दिनों गर्माई हुई है. सीएम गहलोत (Ashok Gehlot) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) के बीच चल रही तनातनी अब किसी से छिपी नहीं है. राज्य में कांग्रेस दो खेमों में बंट गई है. इस बीच राजस्थान संकट में जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) ने भी एंट्री ली है. उमर अब्दुल्ला ने अपनी बहन सारा के पति और राजस्थान (Rajasthan) के उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट को लेकर बड़ा बयान जारी किया है. उमर अब्दुल्ला ने एक ट्वीट करके कहा है कि राजस्थान में जारी उठा-पटक में उन्हें और उनके पिता फारुक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) को बेवजह घसीटा जा रहा है. इसके साथ ही उमर अब्दुल्ला ने अपने ट्वीट में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर भी निशाना साधा है.Also Read - Kirodi Lal Meena: Ashok Gehlot के लिए सर दर्द बन रहे हैं ‘किरोड़ी लाल मीणा’, जल क्रांति के लिए Jaipur कूच करेंगे | Watch Video

उमर अब्दुल्ला ने अपने ट्वीट में लिखा है- ‘मैं ऐसे घटिया आरोपों को सुनकर तंग आ चुका हूं, जिनमें कहा जा रहा है कि राजस्थान में सचिन पायलट जो कुछ भी कर रहे हैं, उसका मुझसे या मेरे पिता की रिहाई से कुछ लेना देना है. बस बहुत हुआ. भूपेश बघेल मेरे वकीलों का सामना करने के लिए तैयार रहिए.’ अपने ट्वीट में उमर अब्दुल्ला ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को भी टैग किया है. Also Read - खाटूश्याम जी मंदिर में हुई भक्तों की मौत पर, Congress ने कमेटी के सदस्यों पर दर्ज करवाया मुकदमा | Watch Video

Also Read - 'बलात्कार कानून' पर विवादित बयान देकर घिरे मुख्यमंत्री, बीजेपी नेता बोले- 'लगता है अशोक गहलोत पर सत्ता हाबी हो गई'

दरअसल, हाल ही में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक वेबसाइट के साथ बातचीत में कहा था कि वह राजस्थान के घटनाक्रम का बारीकी से अध्ययन नहीं कर रहे हैं, लेकिन हैरानी की बात ये है कि उमर अब्दुल्ला को रिहा क्यों किया गया? उन्हें और महबूबा मुफ्ती को एक ही धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उमर अब्दुल्ला बाहर आ गए और महबूबा मुफ्ती अभी भी जेल में हैं. क्या ऐसा इसलिए है कि, सचिन पायलट और उमर अब्दुल्ला रिश्तेदार हैं.

गौरतलब है कि उमर अब्दुल्ला की बहन सारा अब्दुल्ला की शादी सचिन पायलट के साथ हुई है. जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के बाद उमर अब्दुल्ला, उनके पिता फारुक अब्दुल्ला को नजरबंद किया गया था. ऐसे में भूपेश बघेल के इस बयान के बाद उमर अब्दुल्ला ने भूपेश बघेल को नोटिस भेजने की तैयारी कर ली है.