जयपुर: में कांग्रेस सरकार ने टेप कांड मामले की जांच के लिए SIT का गठन किया है. सीआईडी प्रमुख एसपी विकास शर्मा के नेतृत्व में यह विशेष जांच दल काम करेगी. इसमें एंटी करप्शन ब्यूरो, और स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप, साथ ही एंटी टेररिस्ट स्कवॉड के पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारी इसका दल का हिस्सा होंगे. इन सभी टीमों को मिलाकर विशेष जांच दल का गठन किया गया है. Also Read - एकनाथ खडसे ने भाजपा छोड़ कहा- देवेंद्र फडणवीस ने मेरा जीवन बर्बाद किया, NCP में शामिल होऊंगा

बता दें कि बीते दिनों राजस्थान में गहलोत सरकार को लेकर काफी असमंजस की स्थिति बनी हुई थी. गहलोत की सरकार रहेगी या गिरेगी इस पर कुछ भी साफ नहीं था. लेकिन इस बीच फोन टैपिंग मामले ने परेशानी बढ़ा दी है. हालांकि इसका आरोप कांग्रेस ने भाजपा पर लगाया जिसके जवाब में भाजपा ने उच्च स्तरीय जांच की मांग की और फोन टैपिंग मामले से किनारा कर लिया. बता दें कि इस मामले में कई लोग गिरफ्तार भी किए जा चुके हैं. Also Read - वादा तेरा वादा.....बिहार चुनाव में लगी वादों की झड़ी, किस पार्टी ने जनता से क्या की है प्रॉमिस, जानिए

कोर्ट के आदेश के बाद भी आरोपियों द्वारा वॉयस सैंपल देने से इनकार कर दिया गया है, अब मामला ये सामने आ रहा है कि आखिर किसने फोन टैपिंग मामले को मंजूरी दी. इसी कारण बीजेपी द्वारा सीबीआई जांच की मांग की गई है. बता दें कि एक ऑडियो टेप के वायरल होने के बाद से इस मामले ने तूल पकड़ लिया है. इस कारण गहलोत सरकार ने इस पूरे प्रकरण पर केस भी दर्ज कराया है. साथ ही उन्होंने कहा है कि उनके विरोधी उनकी सरकार गिराने की कोशिश कर रहे हैं. Also Read - महाराष्ट्र में BJP को बड़ा झटका- एकनाथ खडसे ने छोड़ा पार्टी का साथ- NCP में होंगे शामिल?