जयपुर: विभिन्न धार्मिक नेताओं के खिलाफ आरोपों और बयान से परेशान 40 वर्षीय एक महंत ने कथित तौर पर अपना लिंग काट लिया. मंधान थाने के प्रभारी राम किशन ने बताया कि सेवा वाली सेवागिरि धाम के महंत अनिल पुरोहित कथित तौर पर विभिन्न धार्मिक नेताओं के खिलाफ लगाए गए आरोपों और बयानों से कथित तौर पर परेशान थे. महंत ने शुक्रवार देर रात अपने कमरे में अपना लिंग कथित तौर पर काट लिया. पुलिस अधिकारी ने बताया कि महंत के अनुयायी उन्हें एक अस्पताल ले गये जहां से उन्हें इलाज के लिये जयपुर रेफर कर दिया गया. उन्होंने बताया कि महंत का जयपुर में इलाज चल रहा है. उनका बयान दर्ज किया गया है. Also Read - COVID-19 vaccination in India: भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू, लगभग दो लाख कोरोना योद्धाओं को दी गई पहली खुराक; बड़ी बातें

दाती महाराज के आश्रम पहुंची पुलिस
दिल्ली पुलिस की एक टीम एक शिष्या के साथ रेप के आरोपी स्वयंभू बाबा दाती महाराज के राजस्थान स्थित एक आश्रम में गई. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. एक जिला पुलिस अधिकारी ने बताया कि टीम के साथ बलात्कार पीड़िता भी थी. टीम को दाती महाराज पाली स्थित आश्रम में नहीं मिला था. उन्होंने कहा कि टीम ने पीड़िता के आरोपों की पुष्टि के लिए आश्रम का निरीक्षण किया. अधिकारी ने बताया कि स्थानीय पुलिस ने टीम द्वारा मांगी गई मदद को उपलब्ध कराया. Also Read - Haryana SSC Village Secretary Written Examination Canceled: हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने ग्राम सचिव के पदों के लिए हुई लिखित परीक्षा को रद्द किया

यौन उत्पीड़न का आरोप
महिला ने रविवार को दक्षिण दिल्ली में फतेहपुर बेरी पुलिस थाने में दाती महाराज के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थीं. इसके बाद यह मामला अपराध शाखा को स्थानांतरित कर दिया गया था. महिला ने आरोप लगाया है कि दाती महाराज के दिल्ली और राजस्थान स्थित आश्रमों में उसका यौन उत्पीड़न किया गया और उसने अपनी शिकायत में स्वयंभू बाबा के दो पुरुष शिष्यों के भी नाम लिए. Also Read - Vaccination Suspended in Maharashtra: महाराष्ट्र में भी रोका गया कोविड-19 वैक्सीनेशन प्रोग्राम, जानें अब वैक्सीन लगेगी या नहीं..?

दाती महाराज को गिरफ्तार किए जाने की मांग
दिल्ली महिला आयोग ने हाल में दाती महाराज को गिरफ्तार किये जाने की मांग की थी. इससे पहले दिल्ली पुलिस ने दाती महाराज के खिलाफ एक लुकआउट सर्कुलर जारी किया ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि वह देश छोड़कर नहीं जा पाए. महिला ने पुलिस को बताया कि वह एक दशक से दाती महाराज की एक शिष्या थी लेकिन उसके साथ बलात्कार किये जाने के बाद वह राजस्थान में अपने घर लौट गई थी.

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की कि अपराध शाखा की एक टीम सबूत इकट्टा करने के लिए राजस्थान में दाती महाराज के आश्रम में गई थी. महाराज आश्रम में नहीं था और टीम के रविवार को दिल्ली लौटने की संभावना है. उन्होंने बताया कि जांच अभी शुरुआती चरण में है.