बांसवाड़ा: चुनावी मौसम में नेता अक्सर छींटाकशी का कोई मौका नहीं छोड़ते और एक-दूसरे पर बेहद आक्रामक शब्दों के जरिये वार करने से बाज नहीं आते. नेताओं पर निजी हमले अक्सर सुर्खियां भी पा जाते हैं, लेकिन राजस्थान के बांसवाड़ा में गुजरात के सुरेंद्रनगर से बीजेपी सांसद देवजी भाई को ऐसा करना भारी पड़ गया. बांसवाड़ा के भागाकोट सीट पर अपने बीजेपी प्रत्याशी के लिए वोट मांगने के दौरान राहुल गांधी को पप्पू कहने पर लोगों ने बीजेपी सांसद को घेर लिया. जमकर हुई बहस के बीच बीजेपी सांसद को माफी मांगनी पड़ी. इसके बाद भी लोगों ने बीजेपी सांसद को सभा नहीं करने दी. बीजेपी सांसद को मौके से लौटना पड़ गया. बात यहीं खत्म नहीं हुई. लोग यहां के बीजेपी दफ्तर भी पहुंच गए और हंगामा किया. लोगों का विरोध शांत करने के लिए स्थानीय बीजेपी नेताओं ने सांसद को वापस गुजरात भेज दिया.

राजस्थान चुनाव 2018: भाजपा को टक्कर देने तीन दशक बाद ‘घर’ लौटे कांग्रेस के ये दिग्गज

सड़क नहीं बनने की शिकायत पर राहुल को बोला पप्पू

जिनके साथ ये घटना हुई, वह देवजी भाई गुजरात के सुरेंद्रनगर से बीजेपी के सांसद हैं. राजस्थान में वह विधानसभा चुनाव के लिए अपनी पार्टी का प्रचार करने पहुंचे हैं. बीते दिन वह बांसवाड़ा के भागाकोट इलाके के वार्ड 36 में लोगों के बीच छोटी सी सभा करने पहुंचे थे. वह कुर्सी पर थे. लोग उनके सामने जमीन पर बैठे हुए थे. कांग्रेस की पार्षद सीता डामोर ने बीजेपी सांसद से पूछा कि राज्य में बीजेपी का पांच साल से शासन है. यहां की सड़क के गड्ढे नहीं भरे हैं. कम से कम सड़क तो ठीक करा दीजिए. इस पर बीजेपी सांसद ने पहले अपनी पार्टी के स्थानीय नेताओं से महिला के बारे में पूछा और जैसे ही पता चला कि महिला कांग्रेस से जुड़ी पार्षद है, बीजेपी सांसद ने तुरंत ही जवाब दिया कि आप अपने पप्पू को बुला लो, वही गड्ढा भर देगा.

राजस्थान चुनाव: इस गांव के लोगों ने वोट ने देने का किया ऐलान, सभी नेताओं से हैं नाराज

भड़के लोगों ने मंगवाई माफी, पार्टी ने वापस भेजा गुजरात
इस पर पार्षद भड़क गई. सांसद द्वारा ये जवाब सुन पार्षद ने कहा कि उन्होंने राहुल गांधी को पप्पू कैसे कहा. इस बीच अन्य लोगों ने भी बीजेपी सांसद को घेर लिया. इतना हंगामा हुआ कि फंसते देख बीजेपी सांसद को माफी मांगनी पड़ी. इसके बाद भी लोगों ने यहां सभा नहीं होने दी और बीजेपी सांसद को लौटना पड़ गया. इतना ही नहीं लोग भागनगर में बने बीजेपी के दफ्तर भी पहुंच गए. यहां भी हंगामा किया. बीजेपी नेताओं ने लोगों को समझाया, लेकिन इसके बाद भी लोग शांत नहीं हुए. विरोध को शांत करने के लिए यहां के भाजपा नेताओं ने बीजेपी सांसद को वापस गुजरात भेजने का फैसला किया और वापस भी भेज दिया. इस पूरी घटना का वीडियो भी लोगों ने बना लिया, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.