नई दिल्‍ली: राजस्‍थान की सियासत की जंग में आज हाईकोर्ट निर्णायक फैसला देगा. राजस्‍थान हाईकोर्ट की जयपुर की खंडपीठ सचिन पायलट समेत 19 विधायकों की याचिका पर आज सुबह करीब 10 बजे फैसला करेगा. वहीं, मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने कल एक सवाल के जवाब में विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर कहा था कि हमारे पास बहुमत हैं और हम विधानसभा में जल्‍द इसे साबित कर देंगे. Also Read - Rajasthan Marriage Guidelines: विवाह समारोह को लेकर गहलोत सरकार ने जारी की नई गाइडलाइंस, नहीं किया गया पालन तो....

बता दें कि हाईकोर्ट ने अपनी पिछली सुनवाई में राजस्‍थान विधानसभा के अध्‍यक्ष (स्‍पीकर) कोई भी कार्रवाई नहीं करने का अनुरोध किया था, लेकिन स्‍पीकर ने सुप्रीम कोर्ट में अपनी याचिका दायर की थी. जिस पर शीर्ष कोर्ट ने गुरुवार को कोई भी अपना फैसला देने के बजाय हाईकोर्ट से निर्णय देने के लिए कहा था. इसके बाद से सभी की निगाहें राजस्‍थान हाईकोर्ट पर लगी हुई हैं. Also Read - विधानसभा चुनाव में करारी हार की समीक्षा के लिए समिति बनाएगी कांग्रेस

हाईकोर्ट बर्खास्त उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित 19 बागी विधायकों को विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी द्वारा अयोग्यता के मामले में दी गई नोटिस को चुनौती देने वाली याचिका पर आज 24 जुलाई को आदेश देगा. Also Read - Who is Himanta Biswa Sarma: पूर्वोत्तर के चाणक्य कहे जाते हैं हेमंत बिस्व सरमा, कभी कांग्रेस सरकार में थे मंत्री, आज बनेंगे असम के CM

बता दें कि गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान के बर्खास्त उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित कांग्रेस के 19 बागी विधायकों की याचिका पर अपना आदेश सुनाने से राज्य के हाईकोर्ट को रोकने से इनकार कर दिया था, लेकिन शीर्ष कोर्ट ने कहा कि यह व्यवस्था विधानसभा अध्यक्ष द्वारा शीर्ष अदालत में दायर याचिका पर आने वाले निर्णय के दायरे में आएगी.

वहीं, विधानसभा का सत्र बुलाए जाने के बारे में कल मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था,’विधानसभा का सत्र जल्दी ही होगा. बहुमत हमारे साथ में है, पूरे कांग्रेस विधायक एकजुट हैं और कोर्ट में जो लोग गए हैं, जिन्होंने गलती की है, जो भटक गए हैं. वो लोग कोर्ट में गए हैं.’

गहलोत ने कहा कि अदालत में चल रहे मामले का दल बदल विरोधी कानून से कोई संबंध नहीं है ‘हमारे पास पूरा बहुमत भी है, हम एकजुट हैं, तभी यहां बैठे हुए हैं.’ उन्होंने उम्मीद जताई कि असंतुष्ट सचिन पायलट खेमे के कुछ विधायक भी सदन में उनका साथ देंगे. गहलोत ने कहा,’ हमें उम्मीद है कि जिन लोगों को (पायलट खेमे ने) बंधक बना रखा हैं, उनमें से कई लोग जब यहां आएंगे तो हमारे साथ वोट करेंगे.’