जयपुरः राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को 31 मार्च तक के लिए आवश्यक सेवाओं को छोड़कर राज्य में पूर्ण लॉकडाउन का निर्देश दिया. उन्होंने एक बयान में कहा कि राज्य में कोरोना वायरस पर अंकुश पाने के लिए और लोगों को सुरक्षित रखने के लिए 22 मार्च से 31 मार्च तक जरूरी सेवाओं और मेडिकल सेवाओं को छोड़कर ‘पूर्ण लॉकडाउन’ होगा. Also Read - What are the Symptoms of Coronavirus? क्या फेफड़े से इतर अन्य अंगों को भी खराब कर रहा COVID-19

गहलोत ने शीर्ष अधिकारियों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया. उन्होंने कहा कि सभी सरकारी कार्यालय, मॉल फैक्टरियां, सार्वजनिक परिवहन आदि इस दौरान बंद रहेंगे. राज्य में अब तक 25 कोविड -19 से संक्रमित पाये गये हैं और 40 अन्य की रिपोर्ट की प्रतीक्षा है. Also Read - Coronavirus Cases In UP: यूपी में टूटा कोरोना का रिकॉर्ड, एक दिन में 68 लोगों की मौत

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ‘जनता कर्फ्यू’ की अपील करने के बाद देश में आज एक अभूतपूर्व बंद होगा. लोगों से आग्रह किया गया है वे स्वेच्छा से कोरोनो वायरस के प्रसार को रोकने के लिए घरों में ही रहें जबकि इस दिन सार्वजनिक परिवहन सेवा निलंबित कर दी गई हैं या इसमें कमी कर दी गई है और आवश्यक वस्तुओं से जुड़ी दुकानों के अलावा अन्य सभी बाजार और दुकानें बंद रहेंगी. Also Read - VIDEO: कोरोना का बढ़ता संक्रमण, घर पर रहकर कैसे बचें इस खतरनाक वायरस से, जानिए

भारत में कोरोना के लगातार मामले बढ़ते जा रहे हैं. अब तक इस खतरनाक वायरस से करीब 300 से ज्यादा लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई. सभी राज्य सरकारें इससे लड़ने की लगातार कोशिश कर रही हैं.