नई दिल्ली: राजस्थान में कांग्रेस सरकार पर संकट गहरा गया है. डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने खुली बगावत कर दी है. सचिन पायलट ने कहा है कि उनके साथ 30 से अधिक विधायक हैं और अशोक गहलोत सरकार अब अल्पमत में है. इस बड़े बयान के साथ ही उन्होंने कांग्रेस छोड़ने का संकेत भी दिया. सचिन पायलट ने कहा कि अपना घर कोई नहीं छोड़ना चाहता है कि लेकिन इस तरह से बेइज्जती बर्दाश्त नहीं है. Also Read - सुशांत सिंह राजपूत मामले पर कांग्रेस ने दी नसीहत, तो भाजपा ने किया घेराव, दागे ये 7 सवाल

इस बीच राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत की विधायकों और पार्टी नेताओं के साथ मीटिंग हुई. देर रात हुई इस मीटिंग में विधायकों और मंत्रियों ने बार-बार ये दावा किया कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार कहीं नहीं जा रही है. पूरे पांच साल सरकार चलेगी. Also Read - अयोध्या में भूमि पूजन के दिन बंगाल में लॉकडाउन तृणमूल की हिंदू विरोधी मानसिकता दर्शाती है : राहुल सिन्हा

विधायक राजेंद्र गुड्डा ने कहा कि अशोक गहलोत के पास बहुमत है. यहाँ तक कि बीजेपी विधायक ही हमारे संपर्क में हैं. अगर हमारा कोई विधायक इधर-उधर होता है तो हम बीजेपी से ही उनके विधायक ले आयेंगे. राजस्थान कांग्रेस के इंचार्ज अविनाश पांडे ने कहा कि कांग्रेस की सरकार मजबूत है और ये जो भी लोग हैं, हम उनका मुकाबला करेंगे.