गुरुग्राम: राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच बड़ी खबर आ रही है. राजस्थान कांग्रेस के 12 विधायक गुरुग्राम के मानेसर स्थित पांच सितारा होटल आईटीसी ग्रैंड भारत में डेरा डाले हुए हैं. कथित तौर पर इन विधायकों ने भारतीय जनता पार्टी को समर्थन करने का निर्णय ले लिया है. हरियाणा भाजपा के एक शीर्ष सूत्र के अनुसार, ये विधायक सचिन पायलट (Sachin Pilot) गुट के हैं. Also Read - अशोक गहलोत ने कांग्रेस विधायकों को क्यों दिलाई अटल बिहारी वाजपेयी की याद, लिखा ये पत्र

लगभग 40 भाजपा विधायकों को भी इसी होटल में रखा गया है, क्योंकि शीर्ष नेतृत्व को लगता है कि ये कांग्रेस के साथ जा सकते हैं. राजस्थान और दिल्ली के प्रभावी भाजपा नेता इन विधायकों लेकर शनिवार शाम यहां पहुंचे. पायलट ने कथित तौर पर शनिवार शाम इन विधायकों से यहां मुलाकात की. Also Read - राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, बोले- जब जब देश भावुक हुआ, फाइलें गायब हुईं

होटल प्रबंधन ने मुख्य प्रवेश द्वार से कोई 500 मीटर की दूरी पर बैरिकेड्स लगा दिए हैं. सफेद कपड़े में एक दर्जन से अधिक बाउंसर भी मीडिया को होटल से दूर रखने के लिए तैनात कर दिए गए हैं. अप्रैल में मध्यप्रदेश के विधायकों को भी यहीं ठहराया गया था, जिसके बाद कमलनाथ सरकार विधानसभा में अल्पमत में आ गई और उसने इस्तीफा दे दिया था. इसके पहले कर्नाटक, झारखंड और छत्तीसगढ़ के कुछ विधायकों को भी यहां स्थानीय पुलिस और खुफिया विभाग की निगरानी में ठहरने का मौका मिल चुका है. Also Read - पंजाब में कांग्रेस का कलह: MP प्रताप सिंह बाजवा के बागी बोल, अमरिंदर सरकार वापस लेगी सिक्‍युरिटी

बता दें कि राजस्थान में सियासी उठापटक जारी है. कहा जा रहा है कि डिप्टी सीएम सचिन पायलट बगावत पर उतारू हैं. वह सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gahlot) से नाराज हैं. नाराजगी की वजह वो नोटिस है, जो सरकार गिराने की साजिश के आरोप में उन्हें दिया गया है. इससे पहले खबर आई थी कि सचिन पायलट अपने साथ 19 विधायकों को लेकर दिल्ली पहुंचे थे और उन्होंने सोनिया गांधी से मिलने का समय माँगा है. इस बीच राजस्थान कांग्रेस का कहना है कि सरकार को कोई खतरा नहीं है. सचिन पायलट के साथ गए विधायक हमारे संपर्क में हैं. हालात को संभालने के लिए कांग्रेस नेता अजय माकन और अविनाश पांडे जयपुर रवाना हुए हैं.