जयपुर: राजस्थान में एक सरकारी स्‍कूल के हेडमास्‍टर ने शिक्षक और छात्रा के पवित्र रिश्‍ते को कलंकित कर दिया. शर्मशार कर देने वाले वाकये में प्रधानाध्‍यापक ने 11 साल की छात्रा के साथ स्‍कूल की क्‍लास में हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए रेप की वारदात को अंजाम दिया. पीड़ित छात्रा जब इस घटना के बाद घर लौटी 10 दिन तक इतना परेशान थी कि वह पढ़ नहीं पा रही थी. इसी बीच उसे चाइल्ड हेल्पलाइन का नंबर दिख गया तो उसे सीधे उस पर डायल करके अपने साथ हुई दुष्‍कर्म की दास्‍तां बता दी. इसकी जानकारी मिलते ही आरोपी हेडमास्‍टर को अरेस्‍ट कर लिया गया है.Also Read - पाकिस्तानी सेना ने इस क्षेत्र में 450 गोले दागे थे, लेकिन इस देवी मंदिर को खरोंच तक नहीं आई थी

पुलिस ने बताया कि शनिवार को एक सरकारी स्कूल की कक्षा के अंदर आठवीं कक्षा में पढ़ने वाली 11 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के आरोप में एक स्कूल के प्रधानाध्यापक को गिरफ्तार किया है. पीड़िता ने बाल कल्याण समिति को फोन कर अपनी आपबीती सुनाई. कमेटी ने सिंघाना थाना क्षेत्र की पुलिस से संपर्क कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. Also Read - अमित शाह ने जवानों के साथ खाना खाया, कहा- देश की रक्षा करने वालों के लिए सरकार सब कुछ करने को तैयार

सिंघाना थाने के अधिकारी भजन राम के मुताबिक, “अपराध की रिपोर्ट 5 अक्टूबर को दर्ज की गई थी. आरोपी प्रधानाध्यापक ने लड़की को घटना के बारे में किसी और को बताने की कोशिश करने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी.” Also Read - सुहागरात पर दूल्हे ने दोस्तों को सौंप दी अपनी नई नवेली दुल्हन, नशीली दवा खिलाकर किया गैंगरेप

थाना प्रभारी ने कहा, “हालांकि, जैसे ही लड़की ने बाल कल्याण समिति के साथ अपनी कहानी साझा की, आरोपी प्रधानाध्यापक केशव यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और उसके खिलाफ पॉक्सो अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया. आरोपी से पूछताछ की जा रही है.”

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना के बाद से बच्ची काफी परेशान थी. पढ़ाई के दौरान उसने चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर देखा और उस पर संपर्क किया, जिसने तुरंत बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष अर्चना चौधरी को सूचित किया. टीम ने बच्ची से मुलाकात की और झुंझुनू के एसपी मनीष त्रिपाठी को इसकी सूचना दी, जिन्होंने स्कूल के प्रधानाध्यापक को गिरफ्तार करने के लिए टीम भेजी.