Rajasthan Latest News in Hindi: पाकिस्तान के सात प्रवासियों को भारत की नागरिकता प्रदान की गई है. ये पाकिस्तान के लोग असुरक्षा के चलते भारत आए थे. इन प्रवासियों ने भारत की नागरिकता मिलने के बाद कहा कि हम भारत के विकास में योगदान देंगे. जयपुर के जिला कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने अपने कार्यालय में भारतीय नागरिकता प्रदान की. इन प्रवासियों में राजस्थान में रह रहे तीन दंपति भी शामिल हैं. जिन लोगों को नागरिकता से संबंधित प्रमाणपत्र प्रदान किए गए उनमें जवाहर राम, सोनारी माई, गोजर माई, गोर्दन दास, गणेश चंद, बसन माई और अर्जन सिंह शामिल थे.Also Read - ICC Test Championship Points Table (2021-23): शर्मनाक स्थिति में 'क्रिकेट का जनक' इंग्लैंड, एशेज सीरीज जीतकर जानिए किस स्थान पर ऑस्ट्रेलिया?

मानसरोवर में 9 साल से पाकिस्तानी प्रवासी के रूप में रह रहे गोर्दन दास ने कहा कि वह पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रहिमयार खान इलाके से यहां आए थे. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर असुरक्षा के कारण हम भारत आए थे. वहां हमें अपने बच्चों का कोई भविष्य भी नजर नहीं आ रहा था. Also Read - Texas में लोगों को बंधक बनाने वाला आतंकी हुआ ढेर, पाकिस्तानी वैज्ञानिक को रिहा करने की कर रहा था मांग

अधिकारियों के मुताबिक, नागरिकता प्रमाणपत्र प्राप्त करने के बाद इन नए भारतीय नागरिकों ने विश्वास व्यक्त किया कि अब उनके बच्चों के सभी अधिकार सुनिश्चित होंगे. इसके अलावा, वे सभी रोजगार और सरकारी सुविधाओं और योजनाओं का भी लाभ लेंगे. इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलेक्टर (दक्षिण) शंकरलाल सैनी भी उपस्थित थे. जिन पाकिस्तानी प्रवासियों को नागरिकता दी गई, वे 7 से 15 साल पहले यहां आकर बस गए थे. नेहरा ने सभी नागरिकों को नागरिकता मिलने पर बधाई दी और उम्मीद जताई कि ये सभी देश की सेवा करते हुए एक अच्छे नागरिक के रूप में राष्ट्र के विकास में योगदान देंगे. Also Read - Four people hostage in Texas: अमेरिका के टेक्सास में चार लोगों को बनाया बंधक, पाकिस्तान के वैज्ञानिक को रिहा करने की मांग