जयपुर: राजस्थान के राज्य निर्वाचन आयोग ने बची हुई कुल 3848 ग्राम पंचायतों में पंच व सरपंचों के चुनाव चार चरणों में कराने की घोषणा सोमवार को की. चुनाव प्रक्रिया इसी माह 16 तारीख को शुरू होगी और पहले चरण का मतदान 28 सितंबर को होगा. बता कि राज्य में पंचायतों के पुनर्गठन व पुनर्सीमांकन का मामला अदालत में चले जाने और उसके बाद लॉकडाउन के कारण अनेक ग्राम पंचायतों में चुनाव अभी तक नहीं हो पाए हैं. Also Read - फर्जी सोशल मीडिया Followers और Likes दिलाने वालों सावधान! राजस्थान का व्यक्ति गिरफ्तार

राजस्थान पंचायत चुनाव इस साल अप्रैल में होने वाले थे, हालांकि, COVID-19 महामारी के कारण, चुनाव स्थगित कर दिए गए थे. राज्य चुनाव आयोग ने कहा कि पंच और सरपंच के पदों के लिए चुनाव 28 सितंबर, 3 अक्टूबर, 6 अक्टूबर और 10 अक्टूबर को होंगे. पंचायत समिति और जिला परिषद के चुनाव अलग-अलग होंगे. नामांकन और चुनाव चिह्नों की जांच भी 20 सितंबर को आवंटित की जाएगी. Also Read - राजस्थान: एक ही घर में फांसी के फंदे से लटके मिले चार शव, कर्ज से परेशान था परिवार

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार 3848 ग्राम पंचायतों में कुल 35968 वार्डों में मतदान 28 सितंबर, 3 अक्टूबर, 6 अक्टूबर और 10 अक्टूबर को होगा. Also Read - कोरोना से उबरे गृह मंत्री अमित शाह, लोकसभा की कार्यवाही में भाग ले सकते हैं

4 चरणों में कराए जाएंगे चुनाव
राज्य निर्वाचन आयोग ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुपालन में गृह विभाग व पुलिस महानिदेशक द्वारा उपलब्ध करायी गई जानकारी के अनुसार आयोग ने शेष बची 3848 ग्राम पंचायतों में पंच व सरपंच के आम चुनाव चार चरणों में कराने का फैसला किया है. इसकी शुरुआत 16 सितंबर से होगी जब पहले चरण में निर्वाचन की लोक सूचना जारी की जाएगी.

1 चरण: राजस्थान ग्राम पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए, एसईसी ने 19 सितंबर को सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए कहा है. 20 सितंबर को कागजात की जांच की जाएगी. मतदान और मतगणना एक ही दिन होगी. तारीख यानी 28 सितंबर. मतगणना पंचायत मुख्यालय पर होगी.

2 चरण: राजस्थान चुनाव आयोग ने घोषणा की कि राजस्थान पंचायत चुनाव लड़ने के इच्छुक उम्मीदवार 23 सितंबर को सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक अपना नामांकन पत्र दाखिल कर सकते हैं. मतदान और मतगणना 3 अक्टूबर को होगी. उपसरपंच का चुनाव होगा 4 अक्टूबर को आयोजित.

3 चरण: राजस्थान ग्राम पंचायत चुनाव या तीसरे चरण के लिए नामांकन पत्र 26 सितंबर को सुबह 10 से शाम 5 बजे के बीच दाखिल करना होगा. चुनाव आयोग के अधिकारी 27 सितंबर को कागजात की जांच करेंगे. मतदान और मतगणना 6 अक्टूबर को होगी. 7 अक्टूबर को उपसरपंच का चुनाव होगा.

4 चरण: राजस्थान ग्राम पंचायत चुनाव चौथे चरण के लिए नामांकन पत्र 30 सितंबर को सुबह 10 से शाम 5 बजे तक दाखिल किए जा सकते हैं. एक दिन बाद, पत्रों की जांच 1 अक्टूबर को की जाएगी. 10 अक्टूबर को वोटिंग होगी और चुनाव परिणाम एक ही दा पर घोषित किए जाएंगे. उप सरपंचों का मतदान 11 अक्टूबर को होगा.

अन्‍य खास बातें
– चुनाव प्रक्रिया की शुरुआत 16 सितंबर से होगी, जब पहले चरण में निर्वाचन की लोक सूचना जारी की जाएगी
– चुनाव आयोग ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण को प्रत्येक मतदान केंद्र में मतदाताओं की संख्या 1100 के स्थान पर 900 रखने का फैसला किया गया है.
– मतदान समय में एक घंटे की बढ़ोतरी करते हुए इसे सुबह साढ़े सात बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक किया गया है
– चुनाव में मतदाता एकदूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम का पालना करते हुए मतदान कर सकेंगे.

इन जिलों में पंचायत चुनाव कराए जाएंगे
राज्य के जिन जिलों में बची हुई ग्राम पंचायतों में चुनाव होना है उनमें गंगानगर, धौलपुर, दौसा, चूरू, बीकानेर, भीलवाड़ा, बाड़मेर, बारां, अलवर, अजमेर, प्रतापगढ़, सीकर व उदयपुर शामिल हैं.

जिला परिषद सदस्यों व पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव की घोषणा अलग से होगी
आयोग ने कहा है कि पंचायती राज संस्थाओं की इन 3848 ग्राम पंचायतों की निर्वाचन प्रक्रिया समाप्त होने के साथ ही राज्य की सभी ग्राम पंचायतों के सरपंच व पंचों का निर्वाचन पूर्ण हो जाएगा. पंचायती राज संस्थाओं के जिला परिषद सदस्यों व पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव के लिए अलग से घोषणा की जाएगी.