Rajasthan School Reopen Latest Update: राजस्थान सरकार ने स्कूल और कॉलेज को खोलने को लेकर बड़ा फैसला लिया है. राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी को खोलने के लिए नए निर्देश जारी किए है. सरकार के मुताबिक, 18 जनवरी से 9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं (School), विश्वविद्यालय (College) और महाविद्यालय (University) की अन्तिम वर्ष की कक्षाओं, कोचिंग सेंटर और सरकारी प्रशिक्षण संस्थानों को खोला जा सकता है.Also Read - नौकरी में 100 फीसदी आरक्षणः अगर कामयाब रहे सीएम अशोक गहलोत तो ऐसा करने वाला पहला राज्य बनेगा राजस्थान

इसी के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वैक्सीनेशन (COVID-19 Vaccine) की प्रक्रिया के कारण 11 जनवरी से मेडिकल कॉलेज, डेंटल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज और पैरामेडिकल कॉलेज खोलने के भी निर्देश दिए हैं. Also Read - Udaipur Tailor Kanhaiya Murder: NIA करेगी टेलर कन्हैया तेली के मर्डर की जांच, हत्या के बाद प्रदेशभर में तनाव

राजस्थान में निकाय चुनाव की तारीखों का ऐलान Also Read - Curfew in Udaipur: उदयपुर में टेलर कन्हैया की हत्या के बाद कई इलाकों में कर्फ्यू, जानिए क्या रहेगा बंद और किन्हें मिलेगी छूट ?

राजस्थान 20 जिलों के 90 निकायों में चुनाव का ऐलान कर दिया गया है. राज्य निर्वाचन आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, 20 जिलों में मतदान 28 जनवरी को होगा. मतदान का समय सुबह 8:00 से शाम 5:00 बजे रखा गया है. 31 जनवरी को मतगणना के बाद नतीजे जारी किए जाएंगे. चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही 20 जिलों में आचार संहिता भी लागू कर दी गई है.

निर्वाचन आयोग द्वारा तय शेड्यूल के मुताबिक, 11 जनवरी को लोक सूचना जारी होगी. 15 जनवरी नामांकन पत्र प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि तय की गई है. 16 जनवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी. 19 जनवरी तक नाम वापस लिए जा सकते हैं. 20 जनवरी को चुनाव चिन्हों का आवंटन किया जाएगा.

इन जिलों में होने हैं निकायों के चुनाव

प्रदेश के 20 जिलों में 90 निकायों में चुनाव होने हैं. इनमें अजमेर, बांसवाड़ा, बीकानेर, भीलवाड़ा, बूंदी, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़, चूरू, डूंगरपुर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, झालावाड़, झुंझुनूं, नागौर, पाली, राजसमंद, सीकर, टोंक और उदयपुर में चुनाव होंगे. इन 90 निकायों के 3035 वार्डों के लिए वोट डाले जायेंगे. इसके लिये इन जिलों में 5253 मतदान केंद्र बनाये जा रहे हैं. इन मतदान केन्द्रों पर 29 लाख से ज्यादा मतदाता मतदान करेंगे.