जोधपुरः हत्या के आरोप में जेल में बंद शंभूलाल रैगर द्वारा कथित तौर पर जेल के भीतर बनाए गए दो वीडियो वायरल हो गए हैं जिनमें उसने दावा किया है कि उसे एक कैदी से अपनी जान का खतरा है. वीडियो में वह लव जिहाद के मुद्दे पर पश्चिम बंगाल के एक मजदूर की हत्या को उचित बताता नजर आ रहा है.

पिछले साल दिसंबर में पश्चिम बंगाल के मजदूर मोहम्मद अफराजुल को मार डालने के आरोप में जेल में बंद रैगर ने वीडियो में कहा है कि उसे एनडीपीएस कानून के तहत जेल में बंद वासुदेव नाम के कैदी से जान का खतरा है. रैगर ने दावा किया कि वासुदेव पश्चिम बंगाल का रहने वाला है.

एक वीडियो में रैगर यह कहता नजर आता है कि लव जिहाद का मुद्दा गंभीर हो गया है. उसने पश्चिम बंगाल सरकार पर आरोप लगाया कि वह इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं कर रही है. राजस्थान के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि इस बारे में जांच की जा रही है कि जेल के भीतर रैगर की मोबाइल फोन तक पहुंच कैसे हुई और किस तरह उसने वहां वीडियो बनाए. इस बारे में केस दर्ज कर लिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.

जोधपुर केंद्रीय कारागार के प्रशासन ने कहा कि उसने यह जानने के लिए जांच शुरू कर दी है कि रैगर किस तरह मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर वीडियो बनाने में सफल हो गया. प्रारंभिक जांच में कहा गया है कि हो सकता है कि रैगर ने किसी अन्य कैदी का मोबाइल इस्तेमाल किया हो, लेकिन जेल अधिकारी उक्त कैदी से मोबाइल बरामद करने में विफल रहे हैं. जेल अधीक्षक विक्रम सिंह ने कहा कि वे मामले की जांच कर रहे हैं और साथ में रैगर की सुरक्षा की भी समीक्षा की गई है.