Zee मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड (ZMCL) के रिजनल चैनल Zee राजस्थान ने केंद्र सरकार और राज्य सरकार के 12 मंत्रियों के साथ बुधवार को ई-कॉनक्लेव का आयोजन किया. Zee राजस्थान राज्य का नंबर-1 चैनल है. 27 मई को आयोजित इस ई-कॉनक्लेव में सीधे मंत्रियों के साथ ई-विमर्श किया गया. लगातार छह घंटे तक चले इस कॉनक्लेव में केंद्र और राज्य सरकार के विभिन्न विभागों के मंत्रियों ने भाग लिया.Also Read - Zee Media के चार नए Digital चैनलों का आगाज, ZMCL के चेयरमैन डॉ. सुभाष चंद्रा ने किया उद्घाटन

राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. 27 मई को यह आंकड़ा 7500 को पार कर गया. दो महीने के लॉकडाउन के बाद राजस्थान के सामने कई चुनौतियां हैं जैसे-कोविड-19 से बचाव, किसानों और उनकी फसलों को बचाना, अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाना ताकि लोगों की आजीविका बहाल की जा सके. इस समय राजस्थान की जनता इस स्थिति से निटपने और अपने भविष्य को लेकर चिंतित है. ऐसे में Zee राजस्थान ने केंद्र सरकार के मंत्रियों और राजस्थान सरकार के मंत्रियों के साथ ई-कॉनक्लेव आयोजित करने की पहल की, ताकि हमारे दर्शक जनजीवन को पटरी पर लाने की योजना के बारे में सरकारी कोशिशों को विस्तार से जान सकें. Also Read - Zee Media का डिजिटल की दुनिया में नया कदम, दक्षिण की चार भाषाओं में लॉन्च होंगे चार नए चैनल

हर सेशन आधे-आधे घंटे तक चला. यहां नेता अपने संबंधित विभाग को लेकर आने वाले समय की रणनीति के बारे में बता रहे थे. इस दौरान वे हमारे दर्शकों को मजबूत बने रहने के लिए प्रोत्साहित भी कर रहे थे. इस सेशन में मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन मेघवाल, शांति कुमार धारीवाल, बुलाकी दास कल्ला, विश्वेंद्र सिंह, कैलाश चौधरी, परसादी लाल मीणा, रमेश मीणा, गोविंद सिंह दोतासारा, टीकाराम जुल्ली, प्रताप सिंह कचरियावास और रघु शर्मा ने भाग लिया. इस कॉनक्लेव में विभिन्न मंत्रालयों को शामिल किया गया ताकि दर्शक विभिन्न सेक्टर्स के रिवाइवल प्लान के बारे में जानकारी हासिल कर सकें. Also Read - कोरोना के दौरान रिपोर्टिंग के लिए Zee Media की पूजा मक्कड़ को मिला पहला पुरस्कार, कवरेज की हुई वाहवाही

इस मौके पर ZMCL क्लस्टर 2 के सीईओ पुरुषोत्तम वैष्णव ने कहा कि हाल ही में विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ आयोजित ई-कॉनक्लेव के बाद हमें ऐसा लगा कि राज्य के स्तर पर रिवाइवल प्लान के बारे में बात करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है. Zee राजस्थान ने इस इवेंट का आयोजन राज्य सरकार के जवाबदेह लोगों को एक मंच पर लाने के लिए किया ताकि हमारे दर्शकों के दिमाग में चल रहे तमाम सवालों के जवाब ढूंढे जा सके.

राजस्थान ई-विमर्श के सफलतापूर्वक आयोजन के बाद आने वाले दिनों में गुजरात, पश्चिम बंगाल, बिहार-झारखंड और ओडिशा के क्षेत्रीय चैनलों क्रमशः ZEE 24 Kalak, ZEE 24 Ghanta & ZEE Bihar Jharkhand और ZEE Odisha पर भी ऐसे ही राज्य स्तरीय कॉनक्लेव आयोजित किए जाएंगे.