नई दिल्ली: चेन्नई के पोरुर में पहला रेस्टोरेंट खुला है जहां रोबोट न केवल खाना परोसेंगे बल्कि कस्टमर्स से अंग्रेजी और तमिल में बात भी करेंगे. इस रेस्टोरेंट में 7 रोबोट की टीम काम कर रही है. ये रोबोट नीले और सफेद रंग के हैं. ये रोबोट कस्टमर्स का स्वैग से स्वागत करते हैं और उनके लिए ड्रिंक और फूड सर्व करते हैं. रिसेप्शन पर आपको महिला रोबोट मिलेगी जो आपके सवालों का जवाब देगी और आपको गाइड करेगी कि कौन सा टेबल खाली है और आप कहां बैठ सकते हैं.Also Read - Flight Fares: दीवाली नजदीक आते ही फ्लाइट के किराए में तेजी, केवल इन लोगों को ही मिलेगी जाने की इजाजत

हर रोबोट की कीमत 5 लाख रुपए है. इन रोबोट्स को ऑपरेट करने के लिए होटल स्टाफ को ट्रेनिंग दी गई है. होटल स्टाफ हमेशा इन रोबोट्स को बनाने वालों के संपर्क में रहता है. इमरजेंसी के दौरान रोबोट्स को बनाने वाले होटल स्टाफ की मदद करेंगे. रेस्टोरेंट के जनरल मैनेजर कैलाश ने बताया कि इंडिया में इस रेस्टोरेंट के तीन ब्रांच हैं. यहां काम करने वाले रोबोट्स कस्टमर्स से बातचीत करेंगे और और टेबल नंबर के बारे में उन्हें गाइड करेंगे. Also Read - Weather Forecast Today: चेन्नई और उपनगरों में भारी बारिश, खतरे के निशान से ऊपर जा सकते हैं पूंडी और सत्यमूर्ति सागर बांध; बाढ़ का अलर्ट जारी

उनका कहना है कि इससे पहले इंडिया में रोबोट रेस्टोरेंट नहीं था. हमने सफलता पूर्वक लॉन्च किया है. हालांकि इन रोबोट्स के नाम नहीं रखे गए हैं. हम कस्टमर्स से सलाह ले रहे हैं जिससे इनके नाम रखे जा सकें. कई सारी सलाह मिलने के बाद हम इन रोबोट्स का नाम रखने के लिए सेरमनी का आयोजन करेंगे. Also Read - दिल्ली के खिलाफ क्वालिफायर से पहले बोले MS Dhoni- खिलाड़ियों ने सभी विभागों को संतुलन में रखने की जिम्मेदारी ली

उन्होंने बताया कि हमारे पास दो तरह के रोबोट्स हैं. एक वे जो लोगों को खाना परोसेंगे और दूसरे वे जो उनसे बातचीत करेंगे. हम अपने रेस्टोरेंट चेन को फैलाने पर विचार कर रहे हैं. बेंगलुरु एक ऑप्शन हो सकता है. कैलाश ने बताया कि हम हर टेबल पर मेन्यू रखते हैं एक बार कस्टमर जब फूड आइटम सलेक्ट कर लेता है इस ऑर्डर को किचन में भेज दिया जाता है. वहां से रोबोट ऑर्डर कलेक्ट करता है. उन्हें इस तरह के डिजाइन किया गया है कि वे उसी टेबल पर खाना ले जाते हैं जहां से ऑर्डर आया है.