नई दिल्ली: अगर सबकुछ ठीक रहा तो जल्द ही गुजरात में बने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का दीदार आप हेलिकॉप्टर से कर सकेंगे. गुजरात सरकार की योजना के अनुसार स्टैच्यू ऑफ यूनिटी और कच्छ के सफेद रेगिस्तान में 10 मिनट के हेलिकॉप्टर राइड का आनंद उठा सकते हैं. गुजरात सरकार इन दो साइटों पर हेलिकॉप्टर सेवा प्रदान करने में रुचि रखने वाली कंपनियों के साथ एमओयू साइन करने जा रही है. गुजरात सरकार का पर्यटन विभाग और नागरिक उड्डयन विभाग सेवाओं को शुरू करने के लिए अंतिम चरण में है. यह संभव है कि यह जल्द ही वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन या जनवरी 2019 तक इस सेवा को शूरू कर दिया जाए.

आज ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ देखने जाएंगे राष्ट्रपति कोविंद, केवड़िया में रखेंगे रेलवे स्टेशन की नींव

हमारे सहयोगी अखबार डीएनए से बातचीत में गुजरात सरकार के पर्यटन सचिव एसजे हैदर ने कहा, हेलीकॉप्टर सेवा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी और सफेद रेगिस्तान के सैलानियों के लिए एक तरह का आनंददायक और अनोखा अनुभव होगा. इससे इन जगहों के आकर्षण में वृद्धि होगी, क्योंकि यहां आने वाले सैलानियों के पास अवसर होगा कि वे इन साइटों का आसमान से दीदार कर सकेंगे.

अयोध्या में बनेगी भगवान राम की सबसे ऊंची प्रतिमा, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से 39 मीटर ज्यादा होगी ऊंचाई

मार्च तक हम सभी इच्छुक सेवा प्रदाताओं को इन साइटों पर हेलिकॉप्टर की उड़ान भरने की अनुमति देने जा रहे हैं. सेवा प्रदाताओं द्वारा सार्वजनिक और संचालन के मानक से प्रतिक्रिया पर विचार करने के बाद, हम एक या दो ऑपरेटर चुनेंगे जो स्थायी तौर पर काम करेंगे. सचिव ने यह भी कहा कि राज्य सरकार की तरफ से सेवा देने वाली कंपनियों को फंड दिया जाएगा.

सरदार पटेल के परिजन बोले- ‘गांधी ने लौह पुरुष को नहीं बनने दिया पीएम’

इसके अलावा, सरकार पोरबंदर में क्रूज सेवा शुरू करने की भी योजना बना रही है. राज्य सरकार के सचिव हैदर ने कहा, हम इसके लिए एम्स्टर्डम क्रूज सेवा से बात कर रहे हैं. यह परियोजना जल्द ही यहां शुरू होगी. राज्य सरकार वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन के दौरान सी-प्लेन सेवा प्रदाताओं के साथ एमओयू पर भी हस्ताक्षर करेगी. सी प्लेन सेवा राज्य के चार स्थानों पर उपलब्ध होगी, जिसमें स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, अहमदाबाद में साबरमती रिवरफ्रंट, मेहसाणा में धारोई बांध और भावनगर जिले में शतरंजजी बांध जलाशय शामिल हैं.

मिलिए… दुनिया की सबसे ऊंची ‘द स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के मूर्तिकार राम सुतार से

दूसरी ओर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गुजरात के नर्मदा जिले के केवड़िया में आज एक रेलवे स्टेशन की आधारशिला रखेंगे. रेल मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई. राष्ट्रपति स्टैच्यू ऑफ यूनिटी भी जाएंगे और सरदार वल्लभ भाई पटेल की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि देंगे. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से मात्र 3.5 किलोमीटर दूर तथा 6,788 लोगों की आबादी वाले छोटे से कस्बे केवड़िया के लिए यह पहला रेलवे स्टेशन होगा.

Statue of Unity के लोकार्पण में यूपी से गए हजारों लोग, ‘एकता ट्रेन यात्रा’ की देखिए झलक

भारत के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को समर्पित दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा का अनावरण इस साल अक्टूबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था. वहां तक जाने के लिए पहले केवड़िया पहुंचना होगा. वर्तमान में केवड़िया तक कोई सीधा हवाई या रेल संपर्क नहीं है. केवड़िया के सबसे पास वडोदरा (71.94 किलोमीटर), भरूच (75.36 किलोमीटर) और अंकलेश्वर (77.95 किलोमीटर) स्टेशन हैं. हवाई यात्रा के लिए सूरत तक फ्लाइट लेनी पड़ती है और केवड़िया वहां से 83 किलोमीटर दूर है.