एलेक्सा प्ले रिलैक्सिंग सॉन्ग, प्लेइंगि रिलैक्सिंग सॉन्ग फ्रॉम अमेजन प्राइम म्यूजिक, एलेक्सा प्ले पॉप सॉन्ग, प्लेइंग पॉप सॉन्ग. एलेक्सा आज मेरे कैलेंडर में क्या है? अंकित के साथ 4 बजे फुटबॉल मैच है. एलेक्सा आज की न्यूज क्या है? एलेक्सा बॉलीवुड के गाने चला दो. एलेक्सा पानीपत की पहली लड़ाई कब हुई थी, एलेक्सा बिस्कुट का टेस्ट कैसा है, एलेक्सा लाइट ऑन कर दो, लाइट धीमा कर दो, लाइट बंद कर दो, अंकित अपना होमवर्क पूरा करो. Also Read - Amazon Alexa की आवाज बनने वाले पहले भारतीय बने अमिताभ बच्चन, हिंदी में करेंगे बात और...

Also Read - Amazon ने भारत में 4,800mAh की बैटरी के साथ लॉन्च किया नया Echo Input स्मार्ट स्पीकर

ये दो व्यक्तियों के बीच की बातचीत नहीं है बल्कि इंसान और एक मशीन के बीच की बातचीत है. आप जो कहते हैं एलेक्सा करते जाता है. आजकल इंटरनेट पर और टीवी पर ये विज्ञापन देखने को खूब मिल रहा है. एलेक्सा ऐमेजॉन का आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड वर्चुअल असिस्टेंट है. जो इंसानों की तरह किसी की बात सुनने के बाद उसे फॉलो करता है. Also Read - घर को स्मार्ट बनाएगा Amazon Echo Flex स्मार्ट स्पीकर, भारत में 2,999 रुपये में हुआ लॉन्च

Xiaomi Mi A2: ग्लोबल लॉन्च के बाद अब भारत में भी लॉन्च होगा स्मार्टफोन, जानिए क्या है खास?

इसके पीछे जो दिमाग है वह एक भारतीय का है. झारखंड की राजधानी रांची के रहने वाले इंजीनियर रोहित प्रसाद के दिमाग की वजह से यह हो पाया. अमेरिका में इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद अमेरिका के इलिनॉइस इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी में पढ़ाई के दौरान उनकी आवाज पहचानने वाली टेक्नॉलजी में रुचि बढ़ी. Amazon Alexa पर काम के लिए Recode वेबसाइट ने रोहित को उनके दोस्त टोनी रेड को 2017 के टेक बिजनस और मीडिया के टॉप 100 लोगों में 15 वें नंबर पर रखा.

भारतीय स्मार्टफोन बाजार में सैमसंग फिर टॉप पर, शाओमी दूसरे नंबर पर

कहा जाता है कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए उनके पास आईआईटी रुड़की और बिड़ला इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी (BIT), मेसरा का विकल्प था. रोहित घर के पास रहना चाहते थे इसलिए उन्होंने BIT को चुना. रोहित का परिवार अभी भी रांची में रहता है. वह अपने परिवार से मिलने के लिए आते रहते हैं.

साल 2013 में रोहित ऐमजॉन चले गए. कुछ समय बाद ऐमजॉन ने उन्हें अलेक्सा आर्टिफिशिअल इंटेलिजेंस के हेड साइंटिस्ट का पद दिया. टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ एक इंटरव्यू में रोहित ने कहा कि यह सफर काफी रोमांचक रहा है. 5 साल पहले किसी डिवाइस को बिना टच किए उससे बातचीत करना साइंस फिक्शन जैसा लगता था. उन्होंने कहा कि हम स्टार ट्रेक (हॉलीवुड सीरीज) के जमाने में बड़े हुए जो हमारे लिए प्रेरणा है.