नई दिल्ली: मंगलवार के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन 4.0 को लेकर घोषणा की. इस दौरान उन्होंने बताया कि लॉकडाउन जारी रहेगा लेकिन इसके रंग रूप में बदलाव किया जाएगा. अपने संबोधन के दौरान पीएम ने कई अहम घोषणाएं भी की. चाहे 20 लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा हो या फिर आत्म निर्भर भारत का आगाज करना ही क्यों न हो. कई अहम घोषणाओं के साथ पीएम ने अपने संबोधन को खत्म किया. खैर ये तो राजनीतिक बातें हो गई. पीएम मोदी के आलोचक भले ही उनकी कितनी आलोचनाएं कर लें लेकिन कई ऐसी बातें हैं जहां वो पीएम के साथ खड़े दिखाई देते हैं. कोरोना वायरस मामला हो या फिर पीएम का स्वैग. जी हां, भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वैग दुनिया में सभी प्रधानमंत्रियों की अपेक्षा कहीं अलग दिखाई पड़ता है. पीएम के कपड़े, धार्मिक जगहों पर जाना, उनके गमछे को मास्क बनाना या किसी प्रकार के पहनावे देखते ही देखते अचानक से ट्रेंड में आ जाते हैं. उदाहरण के लिए एक वक्त था जब सदरी को लोग नेहरू जैकेट कहते थे लेकिन आज के वक्त में इस जैकेट को मोदी जैकेट के नाम से भी पहचान मिली है. Also Read - ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री से बोले पीएम मोदी- कोरोना जाने दो साथ बैठकर खाएंगे समोसे

पीएम का स्वैग Also Read - Mann ki baat: गांव आत्मनिर्भर होते तो ये हालात न होते, अब अर्थव्यवस्था बढ़ रही है, जानें पीएम मोदी की 15 अहम बातें

पीएम कुछ दिनों पहले कोरोना वायरस के मद्देनजर उन्होंने फेसमास्क के तौर पर गमछे का इस्तेमाल किया था. यह गमछा ट्रेंड इन खूब चर्चा में बना हुआ है. इससे पहले पीएम अंडमान यात्रा पर गए थे. यहां उन्होंने लुंगी और शर्ट पहना था. उनका यह लुक भी काफी पॉपुलर हुआ था. यही नहीं साल 2014 में प्रधानमंत्री के बाद पीएम के ड्रेसिंग में अचानक से काफी बदलवा देखने को मिला व उन्होंने कपड़ों के रंग व ड्रेसिंग को पूरी तरह बदल दिया. इसके बाद मोदी जैकेट का चलन भी खूब बढ़ गया. Also Read - Mann Ki Baat Live Updates: 'मन की बात' शुरू, पीएम मोदी कर रहे हैं सम्बोधित

पग का ट्रेंड

सिख धर्म में पग यानी पगड़ी का अहम स्थान है. सिख धर्म हो या हिंदू धर्म दोनों में ही पगड़ी को अहमियत दी गई है. पग का सीधा ताल्लुक आत्मसम्मान, गौरव व स्वाभिमान से जोड़ कर देखा जाता है. पीएम बीते दिनों कई धार्मिक जगहों पर गए जिनमें से पीएम की पगड़ी वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई.

बच्चों के साथ पीएम की दोस्ती
बच्चों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खूब लगाव है. इसलिए आए दिन उनकी तस्वीरे कई बच्चों के साथ वायरल होती रहती हैं. कभी वह बच्चों के कान खींचते देखे जाते हैं तो कभी प्रधानमंत्री कार्यालय में छोटे बच्चे को गोद में लेकर उसके साथ खेलते दिख जाते हैं.

योग विद्या को बनाया पॉपुलर

हालांकि योग विद्या पुराणिक मान्यताओं के हिसाब से अनादिकाल से चली आ रही हैं. लेकिन इसको दुनिया में फैलाने व योग दिवस के रूप में मान्यता दिलवाने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया. योग आज हर घर में अपनी जगह बना चुका है. योग किसी धर्म विशेष से ताल्लुक नहीं रखता. योग मानवीय जीवन के लिए किसी वरदान से कम नहीं है.

पीएम का सेल्फी ट्रेंड

सेल्फी तो वैसे काफी पॉपुलर था लेकिन पीएम जब सेल्फी लेने लगे तो यह सेल्फी खबरों में भी आने लगी. चाहे कितने बड़े फिल्मी स्टार्स ही क्यों न आए हो. पीएम के साथ सेल्फी लेने में उन्हें भी खूब मजा आता है. पीएम मोदी ने साल 201 में चुनाव जीतने के बाद अमेरिका यात्रा पर गए थे. इस दौरान उन्होंने एक सेल्फी ली थी. यह सेल्फी खूब चर्चित हुई थी.

पीएम का स्वैग

भारतीय प्रधानमंत्री का स्वैग दुनियाभर के राजनेताओं से अलग है, क्योंकि पीएम कई तरह के विशेष कपड़ों में नजर आते रहे हैं. गंगा आरती के दौरान भगवा कपड़ा, वॉकिंग के दौरान ब्लैक टीशर्ट और पैंट, अंडमान में लुंगी और शर्ट, तो गुरुद्वारे में पीएम कभी पगड़ी का मान बढ़ाते नजर आए.

विवाद भी बना पहनावा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा जब एक दूसरे से मिले तो इस दौरान पीएम ने एक अनोखा सूट पहना हुआ था. इस सूट की कीमत लाखों में थी. क्योंकि इस सूट में सोने की कढ़ाई की गई थी. साथ ही पूरे सूट पर सोने से बारीक मोदी लिखा हुआ था. हालांकि यह सूट किसी व्यापारी ने उन्हें तोहफे में दिया था. इस सूट पर भी खूब बवाल मचा हालांकि बाद में पीएम ने इसकी नीलामी करवा दी.