नई दिल्ली: यात्रा के दौरान अगर आपकी ट्रेन लेट हो गई तो रेलवे आपको फ्री में नाश्ता और खाना उपलब्ध कराया जाएगा. हालांकि हर दिन ट्रेन लेट होने पर ऐसा नहीं होगा. रेलमंत्री पीयूष गोयल ने सोमवार को कहा कि पटरियों के रखरखाव कार्य के कारण अगर रविवार को कोई रेलगाड़ी पांच-छह घंटे विलंब से चलती है तो भारतीय रेल ट्रेन में मौजूद यात्रियों को मुफ्त में भोजन देगी. रेलमंत्री ने मीडिया से बातचीत में यहां कहा कि रेलवे अपनी संपत्तियों के नियोजित रखरखाव कार्य के कारण रविवार को पांच-छह घंटे ट्रेन के विलंब होने पर ट्रेन में आरक्षित टिकट पर यात्रा कर रहे यात्रियों को मुफ्त में भोजन व जलपान प्रदान करेगीAlso Read - Indian Railways/IRCTC: भारी बारिश के बाद कई ट्रेनें रद्द, कइयों को किया गया रिशिड्यूल, देखें पूरी लिस्ट...

15 अगस्त को रेलवे का नया टाइम टेबल
भोजन और जलपान भारतीय रेल खानपान और पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) की ओर से दिए जाएंगे. गोयल ने कहा कि हम अनारक्षित टिकट पर यात्रा कर रहे यात्रियों को भी मुफ्त भोजन प्रदान करने पर विचार कर रहे हैं. मंत्री ने कहा कि 15 अगस्त को रेलवे की नई समय-सारणी लाई जाएगी, जिसमें यात्रियों को पटरियों पर चले रहे नियोजित रखरखाव कार्य के कारण नियमित ट्रेनों के विलंब होने की सूचना दी जाएगी. उन्होंने कहा कि पिछले सात-आठ दिनों से मैंने सात रेलवे जोन के महाप्रबंधकों के साथ समीक्षा बैठकें की हैं. हमने नियोजित तरीके से रेलवे संपत्तियों के रखरखाव का कार्य चलाने का फैसला किया है. Also Read - Indian Railways/IRCTC: 12वीं के छात्र ने IRCTC के सिस्टम में खोजी बड़ी खामी, दूसरे का टिकट भी आसानी से किया जा सकता था रद्द लेकिन...

कैसे बनता है खाना देख सकेंगे यात्री
उन्होंने कहा कि समयपालन में सुधार के लिए प्रयास किए जाएंगे और सुरक्षा को लेकर कोई समझौता नहीं किया जाएगा.गोयल ने कहा कि सप्ताह के दौरान रखरखाव कार्य दो घंटे तक चलेगा, जबकि सप्ताहांत यानी रविवार को छह घंटे कार्य चलेगा. उन्होंने बताया कि रेलवे बोर्ड ने 2,000 करोड़ रुपये की लागत से इलाहाबाद और मुगलसराय के बीच नई रेल लाइन को मंजूरी दी है. इसपर काम तीन-चार साल में पूरा हो जाएगा. ट्रेन में मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता पर गोयल ने कहा कि आईआरसीटीसी के 16 रसोई कक्ष को सीसीटीवी कैमरा से जोड़ा गया है और यात्री देख सकते हैं कि भोजन किस प्रकार तैयार किया जाता है. Also Read - Indian Railways: सरकार सान्याल समिति के सुझावों के आधार पर रेलवे संचालन के पुनर्गठन पर कर रही विचार

पानी की अतिरिक्त बोतल
कुछ समय पहले रेलवे ने फैसला किया था कि राजधानी और दुरंतो की यात्रा में 20 घंटे से ज्यादा का वक्त लगता है तो यात्रियों को पानी की अतिरिक्त बोतल दी जाएगी. ट्रेन के दो घंटे से ज्यादा देरी से चलने और यात्री के कुल यात्रा समय में 20 घंटे से ज्यादा लगने पर यात्री को रेल नीर की पानी की एक और बोतल दी जानी चाहिए. एक अधिकारी ने बताया कि अगर कोई यात्री नई दिल्ली-हावड़ा राजधानी से सफर करता है तो उसकी यात्रा का वक्त करीब 19 घंटे का है. नए परिपत्र के मुताबिक, अगर वह 20 घंटे से ज्यादा वक्त की यात्रा करके अपने गंतव्य पर दो घंटे से अधिक देरी से पहुंचता है तो उसे रेल नीर की अतिरिक्त बोतल मिलेगी.