नई दिल्ली. कलाकार की कूची कैनवस पर जब मौलिक भाव को उतारती है तो कुछ अद्भुत बनता है. इन अद्भुत कृतियों को दुनिया तस्वीर, चित्र या पेंटिंग्स का नाम देती है. आप जब इन तस्वीरों को देखते हैं तो सिर्फ चित्रकार की कला के ही मुरीद नहीं होते, बल्कि उसके मनोभावों को अनुभव करते हैं. बीते दिनों दिल्ली में हैदराबाद के प्रसिद्ध चित्रकार अंजनीयुलु जी की चंद अनोखी पेंटिंग्स की प्रदर्शनी में आने वाले दर्शकों का सामना इन्हीं मनोभावों से हुआ. बचपन से चित्रकला के माहौल में बड़े हुए अंजनी की तस्वीरों में आपको ग्रामीण भारत के रंग दिखते हैं. साथ ही चित्रकार की यादों को भी प्रतिबिंबित करती हैं. ताजमहल होटल के गलियारे में आर्ट अलाइव गैलरी के सहयोग से लगी यह चित्र प्रदर्शनी 26 जुलाई से आगामी 15 अक्टूबर तक चलेगी.

Anjaneyulu-G-1

संयुक्त आंध्र प्रदेश के हैदराबाद में जन्मे अंजनीयुलु जी, पिछले कुछ वर्षों में अपने चित्रों से दुनिया का ध्यान आकर्षित कर रहे हैं. मुंबई, हैदराबाद, नई दिल्ली के साथ-साथ अमेरिका के न्यूयॉर्क में अपने चित्रों की एकल प्रदर्शनी लगाने वाले अंजनी की यह चित्र प्रदर्शनी, भारतीय ग्रामीण जीवन की झलक दिखाती है. चाहे वह ‘फिशिंग बास्केट’ हो या ‘येलो बिंड’ या फिर ऑयल और एक्रीलिक से कैनवस पर उकेरी गई कोई अन्य तस्वीर, आपको एकबारगी इन तस्वीरों को देखकर भ्रम हो जाएगा कि कहीं ये चीजें कैनवस पर रखी हुई तो नहीं हैं. लेकिन गौर करने के बाद अंजनीयुलु की प्रतिभा से प्रभावित हुए बिना नहीं रह पाएंगे.

Anjaneyulu-G-2

 

Anjaneyulu-G-4

 

ताजमहल होटल की आर्ट गैलरी में लगाई गई अंजनीयुलु की तस्वीरें यूं तो ग्राम्य जीवन की स्मृतियों को संजोए हुए दिखती हैं, लेकिन इनमें एक कलाकार की सोच, किसी भी चीज को देखने का उसका नजरिया और सबसे अहम दृष्टिकोण, सब कुछ स्पष्ट हो जाता है. प्रदर्शनी में लगी सभी तस्वीरें ऑयल और एक्रीलिक की सधी हुई कारीगरी की कहानी कहती है. वर्ष 2015 से लेकर 2018 तक के बीच बनाई गई इन तस्वीरों को बार-बार देखना चाहेंगे. जैसे ‘आयरन बॉक्स’ को देखने से आपके सामने इस्तरी करने वाला उपकरण भर ही आपको नहीं दिखेगा, बल्कि इस तस्वीर की कैनवस पर उभरती छाया भी आपको प्रभावित करेगी.

Anjaneyulu-G-6

Anjaneyulu-G-7

 

अंजनीयुलु की तस्वीरों के बारे में बताते हुए ताजमहल होटल में इस प्रदर्शनी के आयोजन से जुड़ी भावना मेहता और ईशा तनेजा ने बताया कि इससे पहले भी वह कई कलाकारों के चित्रों की प्रदर्शनी लगा चुकी हैं. लेकिन अंजनी की तस्वीरों की खूबसूरती ने उन्हें इसे प्रदर्शित करने का आधार दिया. प्रदर्शनी में लगी अंजनी की ‘टी पॉट’ तस्वीर के बारे में भावना मेहता ने बताया कि इसे देखने के बाद एकबारगी यह लगता है कि आप इस ‘टी-पॉट’ को उठा लें, लेकिन पास जाने के बाद हकीकत का अंदाजा होता है. यही वजह है कि होटल में आर्ट गैलरी को प्रोत्साहित करने वाली टीम ने अंजनी के उत्कृष्ट कार्यों की प्रदर्शनी लगाने का मन बनाया.

Anjaneyulu-G-3

Anjaneyulu-G-5

 

अंजनीयुलु की तस्वीरों के बारे में बात करते हुए आर्ट अलाइव गैलरी की सुनैना आनंद ने चित्र प्रदर्शनी के आयोजन के लिए ताजमहल होटल को धन्यवाद दिया. साथ ही उन्होंने कहा कि पिछले कई वर्षों से वह दिग्गज चित्रकारों और नए कलाकारों की कृतियों की प्रदर्शनी लगा रही हैं. अंजनीयुलु की तस्वीरों की प्रदर्शनी पर उन्होंने कहा कि ये तस्वीरें, दर्शकों को जीवंतता का अनुभव कराती हैं. उन्होंने बताया कि वह वर्ष 2001 से विभिन्न कलाकारों के चित्रों की प्रदर्शनी लगा रही हैं. सुनैना आनंद अब तक 200 से ज्यादा दिग्गज और नवोदित कलाकारों के चित्रों की प्रदर्शनी लगा चुकी हैं.

कला और संस्कृति से जुड़ी खबरों के लिए पढ़ें India.com