14 साल के आर प्रग्गनानंद (R Praggnanandhaa) ने मुंबई में चल रहे विश्व यूथ शतरंज चैंपियनशिप ( World Youth Chess Championship) की अंडर-18 कैटेगरी में स्वर्ण पदक जीता।

विश्व यूथ शतरंज चैंपियनशिप के आधिकारिक अकाउंट से मेडल से सम्मानित किए गए प्रग्गनानंद का वीडियो भी पोस्ट किया गया। प्रग्गनानंद ने 2700 से ज्यादा की प्रदर्शन रेटिंग के साथ 9/11 का अजेय स्कोर बनाया।

चेस डॉट कॉम इंडिया ने सोशल मीडिया के जरिए प्रग्गनानंद को बधाई दी। उन्होंने पोस्ट किया, “वंडर किड प्रग्गनानंद को विश्व अंडर-18 कैटेगरी में जीतने पर ढेर सारी शुभकामनाएं, वो 2700 की प्रदर्शन रेटिंग के साथ 9/11 के अजेय स्कोर पर पहुंचा।”

प्रग्गनानंद की इस जीत के साथ भारत ने विश्व यूथ शतरंज चैंपियनशिप में 6 पदकों के साथ अपना सफर खत्म किया, जिसमें तीन रजत पदक भी शामिल हैं।

गौरतलब है कि 12 साल की उम्र में प्रग्गनानंद भारत के सबसे युवा और दुनिया के दूसरे सबसे युवा ग्रैंडमास्टर बने थे। जिसके बाद शतरंज के माहिर खिलाड़ी और भारतीय दिग्गज विश्वनाथन आनंद (Vishwanathan Anand) ने प्रग्गनानंद को बधाई दी थी।