दोहा में आयोजित 2019 वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप (2019 World Athletics Championships) में भारतीय एथलीटों का निराशाजनक प्रदर्शन जारी है. अनुभवी गोला फेंक भारतीय एथलीट तेजिंदर पाल सिंह तूर और 1500 मीटर के धावक जिन्सन जॉनसन (Jinson Johnson) ने भी गुरुवार को निराश किया.

34वें स्थान पर रहे जॉनसन

दोनों एथलीट अपने-अपने वर्ग के फाइनल्स के लिए क्वालीफाई नहीं कर सके जिसकी वजह से इन्हें टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा. जकार्ता एशियाई खेलों के गोल्ड मेडलिस्ट केरल के जॉन्सन पहले दौर की हीट में तीन मिनट 39.86 सेकेंड के समय से 10वें स्थान पर रहे. 43 धावकों में वह 34वां स्थान ही हासिल कर पाए.

National Tennis Championship: मौजूदा चैंपियन दलविंदर और प्ररेणा ने कटाया सेमीफाइनल का टिकट

भारत के 28 वर्षीय जॉनसन ने पिछले महीने तीन मिनट 35.24 सेकेंड के समय से अपने राष्ट्रीय रिकॉर्ड को तोड़ा था.

लेकिन वह विश्व चैम्पियनशिप में उसी ऊर्जावान प्रदर्शन को दोहराने में असफल रहे. वह एक के बाद एक प्रतिस्पर्धियों से पिछड़ते रहे और अंत में अपने सर्वश्रेष्ठ समय से चार सेकेंड ज्यादा का समय निकाल सके.

तूर 18वें स्थान पर रहे

दूसरी ओर 24 साल के तूर ने सीजन के सर्वश्रेष्ठ प्रयास 20.43 मीटर से ग्रुप बी क्वालीफिकेशन दौर में आठवां स्थान हासिल किया और 34 प्रतिस्पर्धियों में 18वें स्थान पर रहे.

तूर ग्रुप बी में सबसे पहले आए लेकिन ग्रुप ए से पहले ही आठ गोला फेंक एथलीट फाइनल दौर के क्वालीफाइंग मार्क 20.90 मीटर को पार कर चुके थे. पंजाब के इस एथलीट का व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 20.75 मीटर का है जो राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी है.

तूर ने 20.43 मीटर से शुरुआत की लेकिन अगले प्रयास में फाउल कर बैठे. उनके ग्रुप के तीन प्रतिस्पर्धी पहले ही प्रयास में स्वत: क्वालीफाइंग मार्क को पार कर चुके थे जिससे उन पर दबाव बढ़ रहा था. तीसरे और अंतिम प्रयास में वह 19.55 मीटर की दूरी ही तय कर पाए और चैम्पियनशिप से बाहर हो गए.

मयंक अग्रवाल ने दोहरा शतक जड़ने के बाद खोला सफलता का राज

तूर ने जकार्ता 2018 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था. उन्होंने अप्रैल में 20.22 मीटर के थ्रो से एशिायई चैम्पियनशिप में भी पहला स्थान प्राप्त किया था.