नई दिल्ली. लीड्स में वनडे सीरीज के आखिरी मुकाबले में टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा है. सीरीज के निर्णायक मुकाबले में इंग्लैंड ने भारतीय टीम को 8 विकेट से हराया. ये जीत इंग्लिश टीम के लिए जितनी खास है उतनी ही हार विराट एंड कंपनी के लिए सालने वाली है. इस जीत के साथ इंग्लैंड ने जहां वनडे सीरीज पर कब्जा जमाया वहीं विराट कोहली के टीम इंडिया की वनडे टीम की कमान संभालने के बाद ये पहला मौका है जब किसी बाइलेट्रल सीरीज में टीम इंडिया को हार से दो-चार होना पड़ा है. लेकिन, क्या वनडे सीरीज के आखिरी मैच में जीत और हार का मतलब बस इतने से है. जी नहीं, ये इससे कहीं बढ़कर है.

थम गया भारत का ‘विराट’ विजय रथ
जरा एक-एक कर पूरा माजरा समझिए. लीड्स वनडे में मिली सीरीज हार से वनडे क्रिकेट में टीम इंडिया के लगातार 9 सीरीज से चले आ रहे विजय रथ पर ब्रेक लग गया है. कमाल की बात है कि ये सभी वनडे सीरीज भारतीय टीम ने विराट कोहली की कप्तानी में साल 2013 से 2018 के दरम्यान जीते.

5 साल में सबको हराया
विराट की वनडे कप्तानी के 5 सालों के दौरान टीम इंडिया ने जो 9 वनडे सीरीज जीती, उसकी शुरुआत 2013 में जिम्बाब्वे से हुई, जहां उसने 3-0 से वनडे सीरीज अपने नाम की. इसके बाद भारत ने साल 2014 में वनडे सीरीज में श्रीलंका को 5-0 से रौंदा. 2017 में इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड को वनडे सीरीज में हराया. जबकि साल 2018 की शुरुआत साउथ अफ्रीका में 5-1 से 6 वनडे मैचों की सीरीज जीतकर की. लेकिन, लगातार 9 वनडे बाइलेट्रल सीरीज जीतने वाली टीम इंडिया विराट की कमान में इंग्लैंड के खिलाफ 10वीं बाधा नहीं पार कर सकी और उसके विनिंग स्ट्रीक पर विराम लग गया.

इंग्लैंड की ‘8’ नंबरी जीत
साफ है कि इंग्लैंड से हार विराट कोहली के कप्तानी करियर की पहली बाइलेट्रल सीरीज हार है. लेकिन, टीम इंडिया के खिलाफ वनडे सीरीज को जीतकर इंग्लैंड ने भी वनडे क्रिकेट में अपनी लगातार 8वीं बाइलेट्रल सीरीज जीत दर्ज की है.