भारतीय हॉकी टीम 9वें सुल्तान जोहोर कप जूनियर हॉकी टूर्नामेंट में अपने अभियान की शुरुआत शनिवार को मेजबान मलेशिया के खिलाफ करेगी.Also Read - All England Open badminton: ली जी जिया बने चैंपियन, खिताबी मुकाबले में Viktor Axelsen को दी मात

Also Read - अजब-गजब: आवारा कुत्ते को बना दिया 'बाघ', पूरे शरीर पर किया पेंट, देखें Photos

स्प्रिंटर दुती चंद ने नेशनल रिकॉर्ड के साथ जीता गोल्ड Also Read - Coronavirus Updates: अफगानिस्तान, फिलीपींस, मलेशिया के यात्रियों के भारत आने पर रोक, कुआलालंपुर में 300 भारतीय फंसे

प्रतिभाशाली डिफेंडर मंदीप मोर की अगुआई में भारतीय टीम जीत के साथ टूर्नामेंट की शुरुआत करना चाहेगी. पिछले साल राउंड रोबिन चरण में शानदार प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम फाइनल में ग्रेट ब्रिटेन से हार गई थी और इस साल उसकी कोशिश एक कदम आगे बढ़ने की होगी.

मंदीप ने कहा, ‘हमने पिछले चरण में रजत पदक जीता था लेकिन हम बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं थे. हमें लगा था कि हम टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ टीम थे और राउंड रोबिन चरण में हमारे प्रदर्शन ने यह दिखा दिया था. लेकिन अंत में हम ग्रेट ब्रिटेन से करीब से मैच हार गये लेकिन इस साल हम शानदार प्रदर्शन कर टूर्नामेंट जीतने के लिये प्रतिबद्ध है.’

फाइनल का टिकट कटाने रिंग में उतरेंगी भारत की 4 महिला बॉक्सर

भारत और मलेशिया 2011 के बाद जूनियर स्तर पर एक दूसरे से 10 बार भिड़ चुके हैं जिसमें से भारतीयों ने पिछले साल मैचों में फतह हासिल की है जबकि मेजबान केवल एक ही बार जीता है. दो मुकाबले ड्रॉ रहे थे.

मलेशिया के बाद भारत रविवार को न्यूजीलैंड से भिड़ेगा. इसके बाद 15 अक्टूबर को उसकी भिड़ंत जापान से, 16 अक्टूबर को 2017 की विजेता आस्ट्रेलिया और 18 अक्टूबर को ग्रेट ब्रिटेन से होगी.