शिलानंद लाकड़ा (Shilanand Lakra ) के दो गोल के दम पर भारतीय जूनियर पुरुष हॉकी टीम (Indian Junior Men’s Hockey Team) ने ऑस्ट्रेलिया (Australia) को 5-1 से हराकर 9वें सुल्तान ऑफ जोहोर कप (9th Sultan of Johor Cup) के फाइनल में प्रवेश कर लिया है.

महेंद्र सिंह धोनी बोले- मैं भी इंसान हूं और मुझे भी आता है गुस्सा

भारत की ओर से लाकड़ा (26वें और 29वें मिनट) ने दो जबकि दिलप्रीत सिंह (44वें मिनट), गुरसाहिबजीत सिंह (48वें मिनट) और मनदीप मोर (50वें मिनट) ने एक-एक गोल दागा.

पहले मिनट में भारत के पास था गोल करने का मौका

भारत को ऑस्ट्रेलिया की गलती से पहले ही मिनट में गोल करने का मौका मिला लेकिन रोबर्ट मैकलिनान ने तेजी दिखाते हुए गुरसाहिबजीत को सही कोण हासिल नहीं करने दिया और फिर गेंद को बाहर कर दिया.

इसके बाद पूरे क्वार्टर में अधिकांश समय मिडफील्ड में खेल देखने को मिला. ऑस्ट्रेलिया को 8वें मिनट में पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन टीम इसे गोल में नहीं बदल सकी.

दूसरे क्वार्टर में गोलकीपर प्रशांत चौहान मैदान में उतरे

भारत ने दूसरे क्वार्टर में गोलकीपर प्रशांत चौहान को मैदान पर उतारा. ऑस्ट्रेलिया ने इस बीच अच्छा मूव बनाया और माइकल फ्रांसिस के शॉट को सैम मैककुलो ने गोल की तरफ घुमाया लेकिन चौहान ने इस हमले को नाकाम कर दिया.

मिताली राज ने ट्रोलर्स को दिया करारा जवाब, बोलीं-मुझे भारतीय होने पर गर्व है

भारत को दूसरे क्वार्टर में अपना पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन गुरसाहिबजीत से गोल में तब्दील करने में नाकाम रहे.

भारत ने इसके बाद लाकड़ा के गोल की बदौलत बढ़त बनाई. दिलप्रीत के शानदार पास से ऑस्ट्रेलिया डिफेंस छिटक गया जिसका फायदा उठाते हुए लाकड़ा ने गेंद को गोल में पहुंचा दिया.

मध्यांतर तक भारतीय टीम 2-0 से आगे थी

दूसरे क्वार्टर के अंत में चौहान ने ऑस्ट्रेलिया के एक और प्रयास को नाकाम किया. दिलप्रीत और लाकड़ा की जोड़ी ने इसके बाद एक बार फिर शानदार मूव बनाया और लाकड़ा ने एक और गोल दागते हुए भारत को मध्यांतर से पहले 2-0 की बढ़त दिला दी.

भारत ने दो गोल की बढ़त के बाद अंतिम दो क्वार्टर में दबाव बनाए रखा और तीन और गोल दागे. ऑस्ट्रेलिया ने भी इस दौरान एक गोल किया.

अंतिम राउंड रोबिन मैच में भारतीय टीम शुक्रवार को ग्रेट ब्रिटेन से भिड़ेगी. भारत ने पहलेयू मुकाबले में मेजबान मलेशिया जबकि दूसरे मैच में न्यूजीलैंड को हराया था. तीसरे मुकाबले में भारतीय टीम को जापान से हार मिली थी.