ऑस्ट्रेलियाई सीमित ओवर फॉर्मेट टीम के कप्तान एरोन फिंच का कहना है कि ग्लेन मैक्सवेल को वनडे टीम में वापसी के लिए घरेलू क्रिकेट में कड़ी मेहनत करनी होगी। कंगारू कप्तान ने कहा कि फिलहाल ये ऑलराउंडर उनके शीर्ष बल्लेबाजों की सूची में नहीं है।

31 साल के मैक्सवेल ने पिछले साल अपने मानसिक स्वास्थय पर ध्यान देने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से ब्रेक लिया था, जिसके बाद उन्हें भारत दौरे पर जाने वाली वनडे टीम में मौका नहीं मिला। भारत के खिलाफ वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया टीम को निचले क्रम में मैक्सवेल जैसे एक ठोस बल्लेबाज की कमी खली और मेहमान टीम तीन मैचों की वनडे सीरीज 1-2 से हार गई।

लेकिन फिंच का कहना है कि मैक्सवेल फिलहाल टॉप-7 खिलाड़ियों में भी नहीं है। उन्होंने कहा, “फिलहाल वो टॉप-7 से बाहर है।” हालांकि फिंच ने माना कि मैक्सवेल टीम में वापसी करने सकते हैं।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फतेह हासिल कर न्यूजीलैंड रवाना होगी टीम इंडिया, देखें पूरा शेड्यूल

उन्होंने कहा, “कोई भी (वापसी कर सकता है)। बात केवल फॉर्म और सही भूमिका के लिए सही खिलाड़ी चुनने की है, मेरे ख्याल से आखिर में बात यहीं पर आकर रुकेगी- खास भूमिका के लिए खास खिलाड़ी।”

राष्ट्रीय टीम से बाहर चल रहे मैक्सवेल बिश बैश लीग में मेलबर्न स्टार्स के लिए 68.20 की औसत से 341 रन बना चुके हैं। उनकी कप्तानी में स्टार्स टीम 20 अंक लेकर अंकतालिका में शीर्ष पर है। लेकिन ऑस्ट्रेलिया टीम में लौटने के लिए उनका घरेलू क्रिकेट खेलना जरूरी है। मैक्सवेल 21 फरवरी से दक्षिण अफ्रीका दौरे पर होने वाली टी20 सीरीज के लिए अपनी दावेदारी पेश कर सकते हैं।