नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच ने भारत के खिलाफ बुधवार को पहले टी-20 मैच में मिली जीत का श्रेय अपने गेंदबाजों को दिया. गाबा मैदान पर खेले गए इस मैच में भारत को जीत के लिए 174 रनों की दरकार थी लेकिन टीम चार रनों से चूक गई. भारत को डकवर्थ लुईस नियम के हिसाब से यह लक्ष्य मिला था. पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम की पारी के दौरान 16.1 ओवरों में बारिश आ गई थी, जिसके कारण मैच 17 ओवरों का कर दिया गया था.

ऑस्ट्रेलिया ने 17 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 158 रन बनाए थे. इसके बाद डकवर्थ लुइस नियम के हिसाब से भारत को 174 रनों का लक्ष्य मिला था. मैच के बाद फिंच ने कहा, “मुझे लगता है कि खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया खासकर बल्लेबाजी के दौरान मध्य के ओवरों में. इसके बाद गेंदबाजों ने अच्छा काम किया.”

आखिरी ओवर में भारत को जीत के लिए 13 रनों की दरकार थी. फिंच ने इस ओवर की जिम्मेदारी मार्कस स्टोइनिस को दी. स्टोइनिस ने आखिरी ओवर में भारत के दो अहम विकेट- दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या को आउट कर भारत की हार तय कर दी.

विराट कोहली ने बताया मैच का टर्निंग पॉइंट, इस खिलाड़ी के आउट होने के बाद हार गई टीम इंडिया

फिंच ने स्टोइनिस के बारे में कहा, “मुझे स्टोइनिस पर आत्मविश्वास था. मैंने उन्हें खासकर आखिरी में इस काम के लिए रोके रखा था. वह जानते थे कि उन्हें क्या करना है और उन्होंने अपनी रणनीति को अच्छे से लागू किया.”

स्टोइनिस के अलावा ऑस्ट्रेलिया के लिए लेग स्पिनर एडम जाम्पा ने दो विकेट लिए. उन्होंने भारत के दो अहम बल्लेबाजों को आउट किया जिनमें लोकेश राहुल और कप्तान विराट कोहली के विकेट लिए. जाम्पा ने चार ओवरों में 5.50 की औसत से 22 रन दिए. उन्हें अपने प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया.

INDvsAUS: टीम इंडिया के दो विकेटकीपरों में छिड़ी थी जंग, दोनों ने गंवाया खास मौका

जाम्पा ने कहा, “यह मेरे लिए अच्छा अहसास है. विराट जिस तरह के खिलाड़ी हैं, उनको आउट करना मेरे लिए बड़ी बात है. विकेट के पीछे मैं कारे पर ज्यादा विश्वास नहीं करता लेकिन उन्होंने सही फैसला लिया.” ऑस्ट्रेलिया ने इसी के साथ तीन टी-20 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है.