नई दिल्ली. प्रैक्टिस मैच में टीम इंडिया की पहली पारी 358 रन पर सिमट गई. भारत की पारी को 400 के अंदर समेटने में जिस गेंदबाज का सबसे बड़ा हाथ रहा वो रहे 19 साल के आरोन हार्डी. आरोन ने वैसे तो इस मैच में कुल 4 शिकार किए लेकिन अगर उनके कुल परफॉर्मेन्स को देखें तो उन्होंने भारत के 5 बल्लेबाजों को आउट करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. Also Read - Virat-Anushka के घर आई नन्ही परी तो Amitabh Bachchan ने क्रिकेट टीम से निकाला गजब का कनेक्शन, देखें Tweet

19 साल के युवा तेज ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ने 13 ओवर में 50 रन देकर 4 विकेट चटकाए. इसमें उन्होंने टीम के कप्तान विराट कोहली के अलावा, रोहित शर्मा, आर अश्विन और मोहम्मद शमी का विकेट लिया. हार्डी ने जो 5वां विकेट गिराया वो रनआउट कर किया. उन्होंने उमेश यादव को रन आउट किया.

बड़ी बात रही हार्डी का भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली का विकेट लेना. ये कोई पहली बार नहीं है जब प्रैक्टिस मैच में हार्डी ने विरोधी कप्तान को अपना निशाना बनाया है. इससे पहले वो इंग्लैंड के कप्तान जो रूट को भी अपना शिकार बना चुके हैं.

साफ है विरोधी कप्तान आरोन हार्डी के फेवरेट शिकार हैं. ऐसा तब है जब हार्डी अभी 20 साल के भी नहीं हुए हैं और न ही फर्स्ट क्लास डेब्यू नहीं किया है. अब जरा सोचिए अगर अभी से इनकी गेंदों की धार पर विराट और रूट जैसे बल्लेबाज अपना विकेट गंवा रहे हैं तो जब ये इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखेंगे तो क्या होगा.