नई दिल्ली : दक्षिण अफ्रीका के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज एबी डिविलियर्स ने इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी करने से इनकार किया है लेकिन कहा है कि वह देश की शीर्ष टी-20 लीग में खेलेंगे. दुनिया भर में अपनी कलात्मक बल्लेबाजी के लिए प्रसिद्ध डिविलियर्स अगले महीने से शुरू हो रहे मजांसी सुपर लीग में श्वाने स्पार्टन्स की ओर से खेलेंगे.

डिविलियर्स के हवाले से एक वेबसाइट ने बताया, “मैं बहुत ज्यादा उत्साहित हूं. काफी वक्त हो गए हैं, मैंने क्रिकेट नहीं खेला लेकिन मैं लय में वापसी करने की कोशिश में हूं. ऐसे ब्रेक मेरे लिए पहले भी आते रहे हैं. ब्रेक के बाद वापसी करना और गेंद के साथ सही संपर्क करना चुनौतीपूर्ण होता है.”

डिविलियर्स ने टी-20 लीग पर कहा, “यह दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट के विकास के लिए बहुत बड़ा कदम है. सभी खिलाड़ी इसकी सफलता के लिए अपने हिसाब से सर्वश्रेष्ठ योगदान देंगे. एक यूनिट को तौर पर हम सिर्फ इस टूर्नामेंट की अच्छी शुरूआत ही नहीं चाहते हैं बल्कि दुनिया के हर कोने में चाहने वालों के लिए इसे मनोरंजक बनाना चाहेंगे.”

VIDEO: धोनी ने पुणे वनडे में पकड़ा बेहद मुश्किल कैच, फैन्स ने जमकर की तारीफ

उन्होंने दक्षिण अफ्रीका की तरफ से 2004 से 2018 तक क्रिकेट खेला. डिविलियर्स के नाम 114 टेस्ट मैच में 8765 रन हैं जबकि उन्होंने 228 वनडे में 9577 रन बनाए. टेस्ट में डिविलियर्स ने 22 जबकि वनडे में 25 शतक बनाए हैं. उन्होंने इस वर्ष इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के समाप्त होने के बाद संन्यास की घोषणा की थी.

धोनी को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर न ले जाने की बड़ी वजह का खुलासा!

डिविलियर्स ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी वापसी की अटकलों को खारिज करते हुए कहा, “नहीं, मैं वापसी नहीं करूंगा. मैंने यह कहकर गलती कर दी कि ‘कभी रुकना नहीं चाहिए’. मैंने इस फिलॉसफी को अपने जीवन में उतारा है. मैं यह कहना चाहता था कि मेरा ध्यान वर्तमान की स्थिति पर केंद्रित है लेकिन इसका गलत मतलब निकाला गया. मैं विश्व में किसी को भी असमंजस की स्थिति में नहीं रखना चाहता, खासकर दक्षिण अफ्रीका की क्रिकेट टीम को.”