नई दिल्ली. क्रिकेट फील्ड पर साल 2019 की शुरुआत विराट कोहली के लिए धमाकेदार रही है. उनकी कप्तानी में टीम इंडिया ने बैक टू बैक ऑस्ट्रेलिया में वनडे सीरीज जीतने का इतिहास रचा है. इन तमाम कामयाबी के बाद क्रिकेट से छुट्टी लेकर फुर्सत के पल बिता रहे विराट के लिए एक अच्छी खबर बांग्लादेश के T20 लीग से आई है, जहां उनके दोस्त, उनके हमदर्द, एबी डीविलियर्स ने आधे दर्जन छक्के की बुनियाद पर एक कमाल की शतकीय पारी की स्क्रिप्ट लिखी है. डीविलियर्स ने बांग्लादेश प्रीमियर लीग की टीम रंगपुर राइडर्स के लिए खेलते हुए ढाका डाइनामाइट्स के खिलाफ 200 की स्ट्राइक रेट से शतक जड़ा. उन्होंने 6 छक्के के अलावा 8 चौके के साथ 50 गेंदों पर नाबाद 100 रन बनाए और 187 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए अपनी टीम को 10 गेंद पहले ही जीत दिला दी.

200 की स्ट्राइक रेट से शतक

मुकाबले में एक वक्त रंगपुर राइडर्स 11 रन पर 2 विकेट खोकर जीत की ओर बढ़ने से पहले ही दम तोड़ता दिख रहा था. लेकिन, एबी डीविलियर्स के क्रीज पर कदम रखते ही मैच की स्क्रिप्ट बदल गई. डीविलियर्स ने अपनी इनिंग की शुरुआत छक्के के साथ की और पहली 8 गेंदों पर ही 28 रन फोड़ दिए. इस बेहतरीन स्टार्ट के मिलने के बाद तो बस डीविलियर्स ने ढाका डाइनामाइट्स के जिस गेंदबाज को जब चाहा, जहां चाहा वहां मारा और देखते ही देखते अपना शतक पूरा कर लिया.

6 गेंदबाज के खिलाफ 100* रन

बांग्लादेश प्रीमियर लीग में रंगपुर राइडर्स के लिए खेली अपनी नाबाद शतकीय पारी में डीविलियर्स ने ढाका डाइनामाइट्स के 6 गेंदबाजों का सामना किया. इनमें रूबेल, अनिक और होसेन की 19 गेंदों पर 200 की स्ट्राइक से उन्होंने 38 रन जड़े तो रसेल, शाकिब और नरेन की 31 गेंदों का सामना करते हुए 31 गेंदों पर 62 रन बनाए. स्ट्राइक रेट यहां भी 200 का.

विराट को मिली खुशियों की ‘चाबी’

बांग्लादेश में डीविलियर्स के शतक ने विराट कोहली को भी खुश होने का बहाना दे दिया है और इसकी वजह है IPL का अगला सीजन. ये तो सभी जानते हैं कि IPL में विराट और एबी एक ही टीम RCB से खेलते हैं और ये भी जानते हैं कि इस टीम ने अब तक IPL के खिताब पर कब्जा नहीं जमाया है. लेकिन, इस बार मौका बन सकता है. इस मौके की वजह विराट कोहली का मौजूदा फॉर्म तो है ही लेकिन उससे भी बढ़कर अब डीविलियर्स का शतकीय तूफान हो गया है. वैसे भी विराट कोहली के लिए ये साल अब तक लकी रहा है. ऑस्ट्रेलिया हो या न्यूजीलैंड वो सब कुछ बतौर कप्तान पहली बार कर रहे हैं. तो क्या पता IPL पर भी पहली बार कब्जा हो ही जाए.